Murder in Kolhapur | पैसों के सामने दोस्ती हार गई; कोल्हापुर में तीन लोगों ने अपने ही दोस्त की हत्या की, लाश देख दंग रह गई पुलिस!

कोल्हापुर : Murder in Kolhapur | शिरोल तालुका के तीन युवकों ने अपने ही एक दोस्त की बेरहमी से हत्या (murder) कर दी। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि आरोपी ने पैसे के विवाद को लेकर हत्या की है। आरोपियों ने धारदार हथियार से हमला (Murder in Kolhapur ) कर शव को आंशिक रूप से जला दिया। घटना का खुलासा होने के कुछ घंटे बाद ही पुलिस ने हत्याकांड की गुत्थी सुलझा ली है। इस मामले में पुलिस ने तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर दो को गिरफ्तार (arrest) कर लिया है। अन्य एक आरोपी की तलाश की जा रही है।

मृतक की पहचान शिरोल तालुका के दानोली निवासी 28 वर्षीय प्रशांत संजय भिसे के रूप में हुई है। आरोपी प्रताप उर्फ गुंड्या संजय माने, अमोल उर्फ दद्या दत्ता हराले और सागर अजीत होगले हैं। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार मृतक प्रशांत और सभी आरोपी करीबी दोस्त थे। चूंकि प्रशांत बेरोजगार था, इसलिए उसने अपने दोस्तों से कुछ पैसे उधार लिए थे।

इस बीच घटना वाले दिन 15 दिसंबर को मृतक प्रशांत अपने दोस्तों से बात कर रहा था। बात करते-करते पैसे के लेनदेन को लेकर प्रशांत का अपने दोस्तों से विवाद हो गया। यह विवाद इतना बढ़ गया कि प्रशांत का अपने तीन दोस्तों से झगड़ा हो गया। इस पर किसी ने प्रशांत पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। जिसमें प्रशांत की मौके पर ही मौत हो गई। आरोपियों ने हत्या के सबूत मिटाने के लिए प्रशांत के शव को जलाने का प्रयास किया। उसने उसकी बाइक भी पास के एक कुएं में फेंक दिया।

घटना के दो दिन बाद, शुक्रवार दोपहर लगभग 1 बजे, पुलिस को पता चला कि शिरोल तालुका के कोठाली गांव की सीमा के भीतर गायरान भूमि के एक कचरा डिपो में आधा जला हुआ शव था। जयसिंगपुर पुलिस मौके पर पहुंची। शव की हालत देख पुलिस के होश उड़ गए। सीने से पूरा शरीर जल गया। लेकिन उसका चेहरा नहीं जला। इससे पुलिस को मृतक की शिनाख्त करना संभव हो पाया।

घटना के सामने आने के कुछ घंटों के भीतर ही जयसिंगपुर पुलिस ने हत्याकांड की गुत्थी सुलझा ली है। पुलिस ने तीनों के खिलाफ मामला दर्ज कर दो को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपी प्रताप माने और सागर होगले हैं। अमोल उर्फ दद्या दत्ता हराले फरार है और पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

You might also like

Comments are closed.