Loading...

कोरोना वैक्सीन की भारत में कीमत क्या होगी ? सीरम इंस्टिट्यूट के अदार पूनावाला ने बताया

Loading...

मुंबई, 20 नवंबर  कोरोना वैक्सीन का इंतजार जल्द खत्म होगा।  जल्द करना वैक्सीन आम लोगों के लिए उपलब्ध होने की संभावना है।  ऐसे में सभी के मन में यह सवाल है कि कोरोना वैक्सीन के लिए हमें कितने पैसे देने होंगे ? यह वैक्सीन आम लोगों के लिए कब उपलब्ध होगा ? ऑक्सफ़ोर्ड के कोरोना वैक्सीन ऑस्ट्रेजेनिक के साथ ट्रायल करने वाले पुणे के सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया कि भारत में कोरोना वैक्सिंन की कीमत 500 से 600 रुपए होगी।

Loading...
एक इंटरव्यू में पूनावाला ने कहा है कि 2021 के पहले तिमाही में ऑक्सफ़ोर्ड के कोविड 19 का वैक्सीन का करीब 30 से 40 डोज उपलब्ध होगा।
इस वैक्सीन के लिए आम लोगों को 500 से 600 रुपए देने होंगे।  भारत सरकार को यह वैक्सीन सस्ती कीमत पर दी जाएगी। भारत हमारी प्राथमिकता होगी।
अमेरिकन दवा निर्माता कंपनी मॉर्डेनॉ ने सोमवार को घोषित किया कि कोविड 19 के
 लिए हमारा वैक्सीन 94. 5% कारगर साबित होगा।  इससे पहले अमेरिका और जर्मनी ने संयुक्त रूप से विकसित किये गए फ़ाइज़र और बॉयोटिक ने भी इसी तरह की घोषणा की थी। यह दोनों वैक्सीन तीसरे चरण में है और इसके अच्छे रिजल्ट सामने आ रहे है।  लोगों को डोज देने का काम दिसंबर में शुरू किया जाएगा।
Loading...
मोर्डेनॉ और फ़ाइज़र-बॉयोटिक इन दो कंपनियों के तीसरे चरण के ट्रायल के दौरान बड़े फैमाने पर सफल रिजल्ट सामने आये है।  जबकि 10 कंपनियों की वैक्सीन का ट्रायल अंतिम चरण में है।  फ़ाइज़र पर अध्ययन करने वाले स्वतंत्र पैनल ने बताया कि कोरोना को रोकने में यह वैक्सीन 90% प्रभावी होगा।
फ़ाइज़र वैक्सीन 
फ़ाइज़र वैक्सीन की स्टोरेज करना भारत में सबसे बड़ी चुनौती होगी।  फ़ाइज़र वैक्सीन -70 डिग्री तापमान पर रखकर ले जाना होगा।  इसे 5 दिन फ्रिज में रखा जा सकता है।  तीन सप्ताह के बाद इस वैक्सीन का दूसरा डोज लेना होगा।
मॉर्डर्ना वैक्सीन 
इस वैक्सीन को भारत के लिए सही माना जा रहा है।  इस वैक्सीन की स्टोरेज और ट्रैवलिंग के लिए -20 डिग्री तापमान जरुरी है।  इस वैक्सीन को 30 दिन तक रेफ्रिजेटर में रखा जा सकता है। इसे 12 घंटे घर के तापमान में रखा जा सकता है।  इसका दूसरा डोज चार सप्ताह में लेना होगा।
Loading...

Comments are closed.