Nawab Malik | Fletcher Patel और NCB का क्या संबंध ? तीन केस में एक ही गवाह कैसे ? नवाब मलिक का सवाल

मुंबई (Mumbai News) :  महाराष्ट्र (Maharashtra) के अल्पसंख्यक मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने आज एक बार फिर प्रेस कांफ्रेंस कर एनसीबी (NCB) की कार्रवाई पर सवाल उठाया है। एनसीबी के तीन अलग-अलग कार्रवाई में एक ही गवाह होने का खुलासा करते हुए नवाब मलिक (Nawab Malik) ने एनसीबी से कुछ सवाल पूछे हैं। कौन हैं फ्लेचर पटेल? उसका एनसीबी और उसके एक अधिकारी से क्या संबंध है? यह सवाल नवाब मलिक ने उठाया है।

 

नवाब मलिक ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, कौन हैं फ्लेचर पटेल? उसका एनसीबी और उसके एक अधिकारी से क्या संबंध है? एनसीबी को इसका खुलासा करना चाहिए। फ्लेचर पटेल (Fletcher Patel) के साथ समीर वानखेडे (Sameer Wankhede) की तस्वीर क्या कहती हैं?

 

छापेमारी (Raid) में एक फैमिली फ्रेंड को गवाह किया क्या? पंच के रूप में करीबी लोग हैं, क्या यह कार्रवाई तय कर के की गई थीं? कौन सा रैकेट मुंबई (Mumbai) में चल रहा है, फ्लेचर पटेल लेडी डॉन फिल्म इंडस्ट्री में क्या कर रहा है ? नवाब मलिक ने यह भी कहा है कि फ्लेचर पटेल और लेडी डॉन (Lady Don) की मदद से फिल्म इंडस्ट्री (Film Industry) में क्या शुरू है, वानखेड़े फिल्म इंडस्ट्री को निशाना बना रहे हैं।

 

तीन मामलों में एक ही गवाह

 

25/11/2020 को की गई कार्रवाई के पंचनामा में फ्लेचर पटेल गवाह हैं। इसके बाद 09/12/2020 को तलाशी अभियान में फ्लेचर पटेल (Fletcher Patel) ही पंच है और 2 जनवरी 2021 को छापे में फ्लेचर पटेल ही गवाह हैं। तीन मामलों में फ्लेचर पटेल ही गवाह है, समीर वानखेडे (Sameer Wankhede) इसका उत्तर दें, ऐसा सवाल नवाब मलिक ने किया है।

 

14 अक्टूबर को नवाब मलिक (Nawab Malik) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एनसीबी (NCB) पर निशाना साधा था। नवाब मलिक ने यह भी दावा किया है कि उनके दामाद को बिना किसी कारण के एक ड्रग मामले (Drug Case) में फंसाया था। मेरा दामाद समीर खान पर ड्रग तस्कर होने का भी आरोप लगाते हुए खबरें फैलाई गई, ऐसा आरोप भी नवाब मलिक ने लगाया है।

 

भाजपा (BJP) नेताओं का कहना है कि नवाब मलिक का दामाद ड्रग तस्कर है। राष्ट्रवादी (Nationalist) को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। एनसीबी ने बताया कि मलिक का दामाद समीर खान (Sameer Khan) ड्रग तस्कर (Drug Smuggler) था। इस मामले में दामाद को फंसाया गया था। दामाद साढ़े आठ महीने जेल में रहा। नवाब मलिक ने यह भी कहा है कि परिवार को बहुत मनसिक परेशानियों का सामना करना पड़ा।

 

दामाद के कार्यालय से गांजा जब्त किए जाने की खबरें झूठी

 

एनसीबी (NCB) के ऑपरेशन के दौरान 200 किलो गांजा (Hemp) बरामद हुआ था। लेकिन गांजा मिला नहीं तो हर्बल तंबाकू होने की बात रिपोर्ट में स्पष्ट की गई। दामाद के कार्यालय से गांजा जब्त किए जाने की खबरें झूठी हैं। क्या NCB गांजा और तंबाकू में अंतर नहीं पता ? यह सवाल नवाब मलिक ने उठाया।

 

Petrol Diesel Price Pune | आज फिर बढ़े तेल के दाम! पुणे में डीजल सौ पार, 15 दिन में साढ़े चार रुपये की बढ़ोतरी

You might also like

Comments are closed.