Uddhav Thackeray | ‘मैं पैकेज की घोषणा करनेवाला मुख्यमंत्री नहीं बल्कि मदद करनेवाला मुख्यमंत्री हूँ’ उद्धव ठाकरे का फडणवीस पर निशाना

उद्धव ठाकरे का फडणवीस पर निशाना

कोल्हापुर (kolhapur News) : मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) बाढ़ प्रभावित कोल्हापुर (Kolhapur) जिले का निरीक्षण करने कोल्हापुर पहुंचे। इस मौके पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने बाढ़ प्रभावित इलाके का दौरा किया और संवाददाता सम्मेलन आयोजित की हम एक प्राकृतिक आपदा का सामना कर रहे हैं, इस बार का आपातकाल बड़ा है। अतिरिक्त जल नियोजन (additional water planning) की आवश्यकता है। कुछ कड़े फैसले लेने होंगे, अभी समय है।साथ ही बाढ़ पैकेज पर टिप्पणी करते हुए विरोधियों पर भी निशाना साधा है।

मैं मदद करनेवाला मुख्यमंत्री

 

पैकेज की घोषणा करने में इतनी देर क्यों हो रही है? यह सवाल देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने उठाया था। इस सवाल पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कहा, ‘मैं पैकेज की घोषणा करने वाला मुख्यमंत्री नहीं हूं, बल्कि मदद करने वाला मुख्यमंत्री हूं। मेरे साथी मंत्री भी मदद के लिए आतुर हैं। मैं पैकेज सीएम नहीं हूं। मैं पहले ही कह चुका हूं कि लोकप्रियता के लिए अनाउंसमेंट नहीं करूंगा। तत्काल मदद की घोषणा की गई है। पूरी स्थिति और पंचनामा के बाद मदद की जाएगी।

 

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, ”जब मुझे पता चला कि देवेंद्र फडणवीस यहां हैं तो मैंने उनसे कहा कि रुकिए, मैं आ रहा हूं।” वो इसलिए क्योंकि मैं नागरिकों के जीवन के साथ नहीं खेलना चाहता, मैं राजनीति नहीं करना चाहता। यदि उनके पास कोई सुझाव है तो हम उनका स्वागत करते हैं। हमने वहां बात की और यह खुलेआम हुआ था। मैंने उनसे कहा, स्थायी रूप से हमें हमें कोई रास्ता निकालना होगा। पूरे मामले पर चर्चा करने के लिए मैं आपको भी मुंबई (Mumbai) में बुलाऊंगा। तीनों दल एक साथ हैं और अगर चौथा पक्ष भी आता है तो हम जो भी फैसला करेंगे उस पर कोई मुकरेगा नहीं।

 

कहा गया था कि दीवार बनाने का विचार था। दीवार बनाने या न बनाने पर मत-मतांतर है, तो हम आगे नहीं बढ़ सकते। यह देखा जाना बाकी है कि क्या दीवार बनाना एक विकल्प होगा। यदि संभव हो तो इसे सभी को स्वीकार करना चाहिए, यदि नहीं तो इस मुद्दे को छोड़ देना चाहिए।

मैं यह नहीं कह रहा कि मुझे दीवार बनानी ही है। लेकिन हमें यह पता लगाना होगा कि अतिरिक्त पानी का क्या किया जाए। जहां तक हम जानते हैं, जयंत पाटिल (Jayant Patil) कर्नाटक गए थे और वहां के मंत्रियों के साथ चर्चा की थी ताकि इस संकट का कोई निदान निकले।

 

Uddhav Thackeray – Devendra Fadnavis meeting | मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और फडणवीस के बीच बैठक के पीछे का कारण आया सामने, जानें बैठक में क्या हुआ

CM Uddhav Thackeray | अब हमें लेने होंगे कड़े फैसले, वरना संकट नहीं होगा दूर, CM ठाकरे ने दी चेतावनी

 

 

You might also like

Comments are closed.