पुणे के खेड़ पंचायत समिति के शिवसेना सभापति भगवान पोखरकर सहित दो गिरफ्तार; सहकर्मी महिला सहित अन्य पर किया था रॉड से हमला और हवा में फायरिंग 

 

पुणे, 29 मई : अविश्वास प्रस्ताव लाये जाने से नाराज खेड़ तालुका पंचायत समिति के शिवसेना के मौजूदा सभापति भगवान पोखरकर दवारा  अपनी पार्टी के महिला और पुरुष सदस्यों पर रॉड से हमला कर फायरिंग करने की घटना घटी है।  यह घटना डोणजे गांव के वाइल्डर नेक्स होटल में गुरुवार की सुबह पांच बजे घटी थी।  इस मामले में मुख्य आरोपी भगवान पोखरकर और केशव आरगड़े को स्थानीय क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है।

इस मामले में प्रसाद दशरथ काले (नि- गोलेगांव, ता-खेड़ ) ने हवेली पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी।  शिकायत के आधार पर पुलिस ने भगवान पोखरकर, केशव  आरगड़े व अन्य 15 से 20 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।  इनमें से एक आरोपी प्रकाश उर्फ़ पप्पू मारुति पोखरकर (नि -वालज, ता- खेड़ ) को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।  आरोपी भगवान पोखरकर और केशव  आरगड़े घटना के बाद से फरार थे।  पुलिस दोनों को तलाश रही थी।

स्थानीय क्राइम ब्रांच की टीम जब पोखरकर और  आरगड़े को ढूंढ रही थी उस दौरान सभापति भगवान पोखरकर और केशव  आरगड़े शिवाजीनगर के मंगला टॉकीज क्षेत्र में होने की जानकारी मिली। जानकारी मिलते ही पुलिस ने मंगला टॉकीज क्षेत्र में जाल बिछाया और दोनों को कब्जे में ले लिया। आगे की जांच के लिए आरोपियों को हवेली पुलिस को सौंप दिया गया है।

आरोपियों से की गई प्राथमिक पूछताछ में पता चला है कि खेड़ पंचायत समिति चुनाव 4 साल पहले हुई थी।  इस समिति में कुल 14 सदस्य है।  पंचायत समिति में आरोपी सभापति का कार्यकाल अन्य पंचायत समिति सदस्यों दवारा तय किये गए नियम के अनुसार समाप्त हो चुका है।  इसके बावजूद वह इस्तीफा नहीं दे रहा था।  24 मई को सभी सदस्यों ने जिलाधिकारी के पास अविश्वास प्रस्ताव रखा।  इस पर खेड़ प्रांत को निर्देश देकर उनके सामने 31 मई को इस पर सुनवाई होनी थी।  इस बात के गुस्से में भगवान पोखरकर और उसके अन्य 15-20 साथियों ने  डोणजे गांव के वाइल्डर नेक्स होटल में तीन से चार गाड़ियों में पहुंचे।  उसने अपनी ही पार्टी के महिला और पुरुष सदस्यों पर डंडे और रॉड से हमला कर दिया।  साथ ही दहशत पैदा करने के लिए पिस्तौल निकालकर हवा में फायरिंग की और जान से मारने की धमकी दी।

यह कार्रवाई पुलिस सुप्रीटेंडेंट डॉ. अभिनव देशमुख, अपर पुलिस सुप्रीटेंडेट विवेक पाटिल, उपविभागीय पुलिस अधिकारी सई भोरे पाटिल के मार्गदर्शन में स्थानीय क्राइम ब्रांच के पुलिस इंस्पेक्टर पद्माकर घनवट के निर्देश पर पुलिस सब इंस्पेक्टर अमोल गोर, रामेश्वर धोंडगे, पुलिस हवलदार सचिन गायकवाड़, पुलिसकर्मी गुरु जाधव, पुलिस कांस्टेबल अमोल शेडगे, मंगेश भगत, अक्षय नवले, प्रसन्नजीत घाडगे, महिला पुलिस कांस्टेबल पूनम गुंड, पुलिस हवलदार काशीनाथ राजपुरे, पुलिस हवलदार मुकुंद कदम की टीम ने की।
You might also like

Comments are closed.