पुणे में प्रतिबंध बढ़ाने का समय आएगा; अजित पवार ने दी चेतावनी

पुणे: ऑनलाइन टीम- महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण कम होने लगा है, लेकिन सिंधुदुर्ग, रायगड, रत्नागिरी, कोल्हापुर इन जिलों में मरीजों की संख्या में कमी नहीं आई है। शनिवार, रविवार को बहुत भीड़ होती है। महाबलेश्वर, खंडाला-लोणावला में पर्यटकों की भीड़ हो रही है। देवदर्शन के लिए भी बाहर निकल रहे हैं। ऐसा हुआ तो पुणे से बाहर गए लोगों को 15 दिन के लिए क्वारंटाइन करना पड़ेगा। इस तरह का आदेश निकालना पड़ेगा, ऐसा उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने कहा।

कोरोना का संकट धीरे-धीरे कम हो रहा है, लेकिन फिर भी सभी जनप्रतिनिधि और अधिकारियों ने एक साथ बैठकर निर्णय लिया है कि शनिवार और रविवार को बंद रहेगा। इस दौरान सिर्फ अति आवश्यक सेवा शुरू रहेगी। सोमवार-शुक्रवार सब कुछ शुरू रहेगा। आनेवाले शनिवार और रविवार को यही स्थिति रहेगी। टास्क फोर्स के डॉक्टरों ने कहा है कि इंग्लैंड, अमेरिका और दक्षिण अफ्रीका में आए तीसरी लहर को देख रहे हैं। वहाँ वैक्सीनेशन होने के बाद भी ऐसी स्थिति हो गई है। हर मनुष्य का स्वास्थ्य ठीक है तो सबकुछ ठीक है। अगर परिवार का कमाऊ इंसान को कुछ हो जाता है तो पूरा परिवार सड़क पर आ जाता है, ऐसा अजित पवार ने कहा।

पिंपरी चिंचवड में मौत का विश्लेषण करने की कोशिश की। इसमें 4 अस्पताल से डाटा इकट्ठा किया गया। 53 प्रतिशत मृत्यु 60 साल से कम उम्र के वर्ग में हुआ है। 25 से 30 वर्ष के लोगों में भी मृत्यु के प्रमाण हैं। बहुत सारेयुवक युवती हैं। 43 प्रतिशत मृत्यु ऐसे लोगों की हुई है जिन्हे किसी प्रकार की बीमारी नहीं थी, ऐसा भी उन्होंने कहा।

You might also like

Comments are closed.