‘ये’ हैं स्वस्थ रहने का डाइट प्लान, आप भी करें फॉलो

पुणे : समाचार ऑनलाइन – इस दौड़-भाग भरी जिंदगी में स्वस्थ रहने बेहद जरुरी है। इसके लिए आपका सही खान-पान यानि की डाइट प्लान होना जरुरी है। बहुत कोई ज्यादा पैसा कमाने व बचाने के चक्कर में अनजाने में अपने शरीर का नुकशान कर बैठते है। अगर आप शरीर से स्वस्थ हैं, तो समझ लें कि आपका दिमाग भी स्वस्थ है। इसके साथ ही आप आर्थिक रूप से समृद्ध भी होंगे क्योंकि आपकी बचत बीमारी में खर्च नहीं होगी। इसके लिए अपनी जीवन शैली में सुधार की जरूरी है।

अनियमित जीवनशैली और खान-पान ही वे कारण हैं जिनकी वजह से हमारी सेहत बिगड़ती है और बीमारियां हमें घेरने लगती हैं। अगर हम थोड़ी सी सावधानी बरतें और अपने भोजन पर अंकुश लगाएं तो हम कई बीमारियों से आसानी से बच सकते हैं। अपने भोजन में प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट और फल खाएं आदि जरूर शामिल करे।

ऐसी होनी चाहिए आपकी डाइट चार्ट –  सुबह उठकर नित्य क्रिया के बाद आप एक गिलास दूध जिसमें मलाई न हो ले लीजिए। इसके अलावा 3-4 बादाम भी दूध के साथ खा सकते हैं। कोशिश करें कि सुबह-सुबह खाली पेट खट्टे फल न खाएं। कोशिश करें कि खाली पेट 2 गिलास पानी पी लें।

सुबह का नाश्ता – सुबह का नाश्ता 9 बजे तक जरूर कर ले। यह समय ब्रेकफास्‍ट का होता है।  नाश्‍ते में अंकुरित अनाज या फिर एक प्लेट मिक्स या वेजीटेबल उपमा ले सकते हैं। इसके साथ ग्रीन टी या एक गिलास जूस भी फायदेमंद होगा।

दोपहर का खाना – दोपहर 12-1 बजे तक लंच कर ले। इस समय खाना खा सकते हैं। थाली में चोकर वाली दो रोटी, छिलके वाली दाल एक कटोरी, चावल आधा कटोरी, हरी सब्जी एक कटोरी, दही एक कटोरी, सलाद एक प्लेट शामिल करें। खाने के 15-20 मिनट बाद भरपेट पानी पिले।

3-4 बजे के बीच खाएं कुछ हल्का-फुल्का – लंच करने के करीब तीन घंटे बाद हल्‍का-सा नाश्‍ता करना चाहिए। चाय के साथ एक प्लेट भेल या दो बिस्किट, कोई भी एक सीजनल फल (इसमें सेव, संतरा, कच्चा जाम, अनार, नाशपती आदि) | गर्मी में ककड़ी, खीरा, तरबूज लेना ज्यादा फायदेमंद होगा।  गर्मी में एक गिलास जूस भी ले सकते हैं।

रात का खाना – रात के खाने में चावल ज्‍यादा मात्रा में शामिल न करें। इसमें दाल, दो चपाती, हल्‍का चावल, एक कप दही और एक प्‍लेट सलाद ठीक रहेगा। सोने से करीब तीन घंटे पहले डिनर कर लेना चाहिए। इसके अलावा सोने से ठीक पहले यानि डिनर करने के करीब एक घंटे बाद एक फल या दूध आधा गिलास लीजिए, जूस भी ले सकते हैं।

You might also like

Comments are closed.