इसलिए इसका श्रेय गांधी-नेहरू और पटेल जैसे कांग्रेसी नेताओ को जाता है – शिवसेना नेता संजय राऊत का बयान 

मुंबई : समाचार ऑनलाइन – गांधी की वजह से देश टूटा ऐसा जिन्हे लगता है वह इसे फिर से अखंड बनाये। ऐसा करने से उन्हें कोई रोक नहीं रहा हो. पाकिस्तान आज साफ रूप से नरक बन गया है. लेकिन इसका दोष जिन्ना के साथी मान नहीं रहे हैं. लेकिन गांधी-नेहरू ने एक आधुनिक भारत का निर्माण किया। उन्हें रोज मारा जा रहा है.  हिंदुस्तान की हालत पाकिस्तान जैसी नहीं हुई इसका श्रेय गांधी, नेहरू व पटेल जैसे कांग्रेसी नेता को जाता है. उन पर कीचड़ उछालने का पाप जो कर रहे है उन पाप करने वालो को गांधीजी ने स्वतंत्रता दिलाई है।  इतना ध्यान रखना चाहिए। इस तरह की टिपण्णी शिवसेना नेता संजय राऊत ने भाजपा के बचाल नेताओ पर की है.

महात्मा गांधी की कितनी बार हत्या की जाएगी। यह अब हमें तय करना होगा। गांधी के विचारो से जो सहमत नहीं है उन्हें यह मानना होगा कि गांधीजी के स्तर का नेता स्वतंत्रता आंदोलन में नहीं हुआ. गांधीजी का स्वतंत्रता आंदोलन में बड़ी भूमिका थी. इसे मानते हुए नाथूराम गोडसे ने पहले उनके पेअर छुए थे इसके बाद गोली मारी थी. गोडसे के प्रेम में गांधी पर असभ्य बात बोलने वालो को गोडसे की सभ्यता स्वीकार कर लेनी चाहिए।  कर्नाटक के भाजपा नेता अनंतकुमार हेड़गे ने कहा था कि गांधीजी ब्रिटिश के एजेंट थे और उनका स्वतंत्रता आंदोलन नाटक था.

बीच के दिनों में महाराष्ट्र में गोडसे की पुण्यतिथि मनाई गई जबकि उत्तर प्रदेश में गांधीजी की प्रतिमा पर गोली मारकर गोडसे को श्रद्धांजलि दी गई थी. हिंदुस्तान में जन्मे गांधी को उन्हें 70 वर्षो के बाद बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है. गांधी को समझना हेड़गे के बस की बात नहीं। लेकिन तालिबानी सिस्टम से  हिंदुत्व देश अफगानिस्तान  बन जाएगा।  गोडसे को श्रद्धांजलि देने के लिए गांधी को गाली देने की जरुरत नहीं है.

You might also like

Comments are closed.