तब अमित शाह ने यही शायरी सुनाई थी, देवेंद्र फडणवीस ने किया कॉपी 

मुंबई : समाचार ऑनलाइन – विधानसभा का सभा का विशेष अधिवेशन रविवार को बुलाई गई थी. इस मौके पर देवेंद्र फडणवीस को विरोधी पक्ष नेता के रूप में चुना गया. देवेंद्र फडणवीस के चुने जाने के बाद सत्ताधारी नेताओं ने भी उनका अभिनन्दन किया। इस मौके पर देवेंद्र फडणवीस ने ये कहकर निशाना साधा कि मैं फिर से आऊंगा, लेकिन टाइम टेबल नहीं बताया था. इसलिए कुछ समय तक इंतजार करे. इसके बाद देवेंद्र फडणवीस ने सत्ताधारी नेताओं को जबाव दिया। खास कर इस शायरी का कनेक्शन अमित शाह से है.

विधानसभा में सत्ताधारी पार्टी के नेताओं दवारा आभार मानने पर देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि मेरा पानी उतरता देख किनारे पर घर मत बना लेना। मैं समंदर हूं लौटकर जरूर आऊंगा। मैं फिर से आऊंगा पर विरोधियो दवारा निशाना साधे जाने का जबाव दिया। उन्होंने कहा कि विरोधी दल के रूप में काम करने का हमारा डीएनए है. जनता के हित के कार्य करने में हम निश्चित रूप से सहयोग करेंगे। फडणवीस की शायरी का कनेक्शन गृहमंत्री अमित शाह से है. अमित शाह को   9 वर्ष पहले गुजरात के तत्कालीन गृहमंत्री ने विधानसभा में यही शायरी सुनाया था, 2010 में तत्कालीन गृहमंत्री को गिरफ्तार कर लिया गया था. उस वक़्त अमित शाह ने यही शायरी सुनाई थी. महाराष्ट्र विधानसभा में फडणवीस ने इसी शायरी की कॉपी की।  3 महीने बाद अमित शाह बाहर आ गए थे. उस वक़्त पी- चिदंबरम देश के गृह मंत्री थे. आज अमित शाह देश के गृह मंत्री है और पी- चिदंबरम जेल में है.

Comments are closed.