किराएदार घर छोड़ने को तैयार नहीं और मकान मालिकों को थमाया गया नोटिस

पुणे : समाचार ऑनलाईन – कैम्प परिसर में गुरुवार को दो जगहों पर घर ढहने की घटनाओं के मद्देनजर पीसीबी (पुणे कैंटोन्मेंट बोर्ड) की सीमा में पुराने और खतरनाक भवनों के मालिकों को नोटिस दिए गए. कैंटोन्मेंट बोर्ड कानून की धारा 297 के तहत अब तक 13 घरों के मालिकों को नोटिस दिए गए और उन्हें तत्काल मरम्मत के लिए भी कहा गया. पीसीबी एरिया में पुरानी और खतरनाक बिल्डिगों की जांच करने के लिए एक समिति बनाई गई है. जिसमें कंस्ट्रक्शन विभाग, स्वास्थ्य विभाग और विद्युत विभाग के कर्मचारियों को शामिल किया गया है. जिन घरों के आसपास के निवासियों को जान का खतरा है उन घरों के मालिकों को नोटिस दिया गया है. यह जानकारी मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमितकुमार ने दी है.

एक घर के ढह जाने की घटना गुरुवार को घटी थी

उल्लेखनीय है कि कैंप के जान मोहम्मद रोड पर स्थित एक घर के ढह जाने की घटना गुरुवार को घटी. इसके अलावा एमजी रोड पर राम मंदिर के सामने भी एक मकान की उपरी दो मंजिल ढह गई. इन घटनाओं के बाद पीसीबी की नींद खुली और उन्होंने पुराने घर मालिकों को नोटिस देना शुरु कर किया है. उल्लेखनीय है कि पीसीबी की सीमा में 100 से अधिक पुराने घर हैं इनमें से अधिकांश को मालिकों ने किराए पर दे रखे हैं. कुछ घरों की दीवारें बारिश के कारण जर्जर हो गई हैं और खतरनाक स्थिति में हैं लेकिन इन मकानों को किराएदार खाली करने को तैयार नहीं हैं.
बोर्ड के अधिकारियों ने यह भी बताया कि इन मकानों से मकान मालिकों को भी नाम मात्र का किराया मिलता है इसलिए वे इनकी मरम्मत करवाने में भी ज्यादा रुचि नहीं दिखाते हैं इसलिए किराएदार इनकी शिकायत बोर्ड को करते हैं.

Comments are closed.