पुणेवासियों का कोरोना मुक्ति की दिशा में बढ़ा कदम, डिस्चार्ज पाने वालों की संख्या बढ़ी 

 

पुणे, 26 मई : फ़िलहाल महाराष्ट्र राज्य में कोरोना अपने पांव पसार चुका है।  कोरोना के प्रकोप पर ब्रेक लगाने के लिए राज्य में लॉकडाउन की घोषणा की गई।  इसके बाद राज्य के हर जिले में कोरोना वायरस के प्रादुर्भाव को कम करने के लिए लड़ाई शुरू की गई।  इसके मद्देनज़र पुणे जिले में कोरोना का पप्रादुर्भाव अब दिन प्रतिदिन कम होता नज़र आ रहा है।  पुणे में मंगलवार को 1 हज़ार 560 कोरोना संक्रमितों को डिस्चार्ज दिया गया।

मंगलवार को पुणे शहर में 739 नए कोरोना मरीज मिले।  अब तक शहर के 4 लाख 66 हज़ार 858 लोग कोरोना संक्रमित हुए है।  इसमें से अब तक 4 लाख 49 हज़ार 912 लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके है।  मंगलवार को एक दिन में 7 हज़ार 737 संदिग्धों का कोरोना टेस्ट किया गया।  अब तक शहर के 24 लाख 51 हज़ार 735 लोगों का कोरोना टेस्ट किया जा चुका है।
शहर में उपचार करा रहे 8 हज़ार 868 मरीजों में से 1032 मरीज की स्थिति गंभीर है।  2224 मरीजों को  ऑक्सीजन दिया जा रहा है।  पुणे मनपा सीमा में नए 35 कोरोना मरीजों की मौत हो गई है।  मंगलवार को सामने आये आंकड़ों के अनुसार पुणे शहर में अब तक 8 हज़ार 78 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है।
सोमवार को शहर में नए कोरोना मरीजों की संख्या 85 दिनों के बाद 500 के अंदर थी। मंगलवार को शहर में मरीजों की संख्या एक मार्च को मिले मरीजों की संख्या के पास पहुंच गई।  सोमवार को केवल 494 नए मरीज मिले।  2 मार्च से मरीजों की संख्या पांच सौ का आंकड़ा पार कर साढ़े 7 हज़ार तक पहुंच गई थी।  इन आंकड़ों को देखते हुए कहा जा सकता है कि पुणे शहर अब कोरोना मुक्त की दिशा में आगे कदम बढ़ा चुका है।
You might also like

Comments are closed.