महाराष्ट्र में 22  नये जिले और 49 तहसील बनाने की स्टडी कमेटी की रिपोर्ट सरकार के समक्ष रखी गई

मुंबई : समाचार ऑनलाइन – प्रशासकीय सेवा में गति लाने के लिए राज्य की बड़ी आबादी वाले जिले और तहसीलों का विभाजन का प्रस्ताव राज्य के मुख्य सचिव के नेतृत्व में स्टडी कमेटी ने राज्य सरकार के समक्ष रखा है. इस प्रस्ताव के अनुसार नये 22 जिलों और नये 49 तहसीलों का निर्माण आने वाले समय में होने की संभावना है.

दो वर्ष पहले युती सरकार के समय जिला और तहसीलों के विभाजन का प्रस्ताव स्टडी कमेटी ने पेश किया था. लेकिन इस पर अंतिम निर्णय नहीं लिया गया. मंत्रालय के वित्त विभाग के सचिव, राजस्व और योजना विभाग के सचिव और राज्य के सभी विभागीय आयुक्त इस समिति के सदस्य है. लेकिन भाजपा-शिवसेना युती के नेताओं द्वारा प्रस्तावित किए गए मुद्दे पर मौजूदा सत्ताधारी महाविकास आघाड़ी के नेताओं की क्या भूमिका रहेगी, यह पेश किए गए प्रस्ताव की मंजूरी के बाद सामने आएगा. यह जानकारी सूत्रों से मिली है.

मिली जानकारी के अनुसार पुणे जिले के विभाजन प्रस्ताव में शिवनेरी को नया अलग जिला बनाना इसमें शामिल है. अहमदनगर जिले के शिर्डी, संगमनेर और श्रीरामपुर ऐसे तीन नये जिलो को प्रस्ताव में स्थान दिया गया है. फिलहाल ठाणे जिले में स्थित कल्याण और मीरा-भाईंदर को अलग जिले का दर्जा दिया जाएगा.

प्रस्तावित अलग जिलों के नाम
नये प्रस्तावित जिलों में बुलढाना जिला (खामगांव), यवतमाल (पुसद), बीड़ (अंबाजोगाई), सातारा (माणदेश), रायगढ़ (महाड़), रत्नागिरी (मानगढ़) और नासिक जिले के मालेगांव और कलवण का नाम शामिल है.

visit : punesamachar.com

You might also like

Comments are closed.