सोने के भाव में लचक जारी, आज मामूली गिरावट के साथ कसमसा रहा है बाजार  

ऑनलाइन टीम. नई दिल्ली : कोरोना महामारी के कारण जिंदगी के साथ अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। अनिश्चितता ने लोगों में डर पैदा किया है जिसकी वजह से वो ख़र्च करने को तैयार नहीं हैं, लेकिन वो सुरक्षा चाहते हैं। यह सुरक्षा वो सोने में निवेश करके ढूंढ रहे हैं, इसकी वजह से निवेश की खपत बढ़ी है। लेकिन इसमें भी लगातार उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है, क्योंकि पूरी दुनिया के बड़े-बड़े केंद्रीय बैंकों ने सोने की ख़रीद बढ़ा दी है। इनमें भारत का केंद्रीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई), यूरोपीयन सेंट्रल बैंक, पीपल्स बैंक ऑफ़ चाइना, फ़ेडरल रिज़र्व जैसे बैंक शामिल हैं। वैसे दोखा जाए तो 5,000 साल पहले भी सोने को मूल्यवान माना जाता था, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि सोने की वैल्यू हमेशा बढ़ती है, घटती नहीं है।

आज रोज बाजार प्रभावित हो रहा है। मंगलवार को सोने की कीमतों  में मामूली गिरावट देखने को मिली है। विशेषज्ञ इसके पीछे अनिश्चितता को कारण मान रहे हैं। दर की नजर से मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) पर 4 मई को गोल्ड का भाव 47,314 रुपये प्रति 10 ग्राम है। गोल्ड फ्यूचर  MCX पर 0.06 फीसदी यानी 27 रुपये की गिरावट के साथ 47,292 रुपये और सिल्वर फ्यूचर  का भाव 0.19 फीसदी यानी 137 रुपये की गिरावट के साथ 70763 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर है।

जानकारों के मुताबिक कोरोना के कारण शादी-ब्याह के घर में भी सीमित संसाधनों पर बल दिया जा रहा है। कई घर तो सोने के स्थान पर नकद को तरजीह देने लगे हैं। इस कारण भी सोने के निखार पर असर पड़ रहा है। इंडियन बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के मुताबिक, इसी कारण हाजिर बाजार में उच्चतम शुद्धता वाला सोना 46,900 रुपये में बिका है।

इंटरनेशनल मार्केट में गोल्ड की बात करें तो यहां भी गिरावट है। यहां सोना हाजिर 0.2 फीसदी की गिरावट के साथ 1,789.02 डॉलर प्रति औंस पर था। चांदी 0.5 फीसदी गिरकर 26.74 डॉलर प्रति औंस पर थी, जबकि प्लेटिनम 0.1 फीसदी घटकर 1,228.94 डॉलर प्रति डॉलर पर आ गया।

 सावधान रहें :

‘BIS Care app’ से आप सोने की शुद्धता  की जांच कर सकते हैं। इस ऐप के जरिए सिर्फ सोने की शुद्धता की जांच ही नहीं, बल्कि इससे जुड़ी कोई भी शिकायत भी कर सकते हैं।

You might also like

Comments are closed.