चुनाव खत्म होते ही बदले की सियासत शुरू

तोड़ू कार्रवाई बनी हथियार; वाकड़ में दो शेड गिराए

पिंपरी : समाचार ऑनलाइन – विधानसभा चुनाव के नतीजे सामने आने के बाद पिंपरी चिंचवड़ शहर में बदले की सियासत शुरू हो गई है। अवैध निर्माणों और अतिक्रमण के खिलाफ तोड़ू कार्रवाई को बदला लेने के लिए हथियार बनाया जा रहा है। इसका उदाहरण शनिवार को वाकड़ में की गई तोड़ू कार्रवाई से मिला है जिसमें दो शेड गिराए गए जबकि अन्य अतिक्रमण को छुआ तक नहीं किया गया। शिवसेना के गुटनेता राहुल कलाटे ने इस कार्रवाई को बदले की सियासत बताकर इसकी कड़ी निंदा की है।
मनपा के अतिक्रमण विरोधी विभाग ने शनिवार को वाकड दत्त मंदिर रोड इलाके में तोडू कार्रवाई की। इसमें केवल बालकृष्ण कलाटे और अजय कलाटे के दो शेडों को ध्वस्त किया गया। जबकि अन्य अतिक्रमण को छुआ तक नहीं गया। इससे यह साफ होता है कि मनपा का अमला सत्तादल के इशारे पर बदले की भावना से तोड़ू कार्रवाई कर रहा है। शिवसेना गुटनेता राहुल कलाटे ने इसकी कड़ी निंदा की है। उन्होंने मनपा आयुक्त श्रावण हार्डिकर को एक ज्ञापन सौंपा है इसमें और आरोप लगाया है कि तोड़ू कार्रवाई भेदभावपूर्ण तरीके से की जा रही है।
पिंपरी चिंचवड शहर के दृष्टिकोण से अवैध निर्माणकार्य, अतिक्रमण होना उचित नहीं है। मगर तोड़ू कार्रवाई करते समय सभी अवैध निर्माणों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिये न कि बदले की भावना से एकाध के निर्माण पर बुलडोजर फिराया जाना चाहिए। कार्रवाई से पहले महाराष्ट्र प्रादेशिक नगर रचना अधिनियम की धारा 1966 के अनुसार नोटिस दी जानी चाहिए। मगर शनिवार की कार्रवाई में मात्र दो शेड हटाना संदेह का दायरा बढ़ा रहा है, यह बताकर राहुल कलाटे इस कार्रवाई का पूरा ब्यौरा देने की मांग की है।
You might also like

Comments are closed.