दिल्ली पर भी ‘ताउते’ का असर, तीन दिन तक बारिश के आसार 

ऑनलाइन टीम. नई दिल्ली : समुद्री तूफान जब भी आया, कोहराम मचा कर गया, लेकिन आमतौर हाल के वर्षों में देखा गया था कि तूफान अपेक्षा के अनुरूप मजबूत होते हुए भी क्रमश: कमजोर होता गया था। इस बार का आया तूफान ताउते हर दिन और प्रचंड होता गया। यही कारण है कि समुद्र तटीय इलाकों में इसने कहर बरपा दिया। केरल, कर्नाटक, गोवा के बाद महाराष्ट्र और गुजरात में भारी तबाही हुई।

मुंबई में भारी बारिश से कई जगह जलभराव की स्थिति पैदा हो गई है। कई जगह पेड़ उखड़ गए हैं और एयरपोर्ट भी बंद रहा। हालांकि बाद में एयरपोर्ट का संचालन शुरू हो गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार च्रकवात ताउते ‘काफी भीषण चक्रवाती तूफान’ में परिवर्तित हो गया है। महाराष्ट्र में 6 की मौत हुई, जबकि 9 घायल हुए। कर्नाटक में चक्रवात ताउते की वजह से प्रभावित तटीय और मलनाड जिले में अब तक छह लोगों की मौत हो गई। आज सुबह तक 121 गांव और तालुका चक्रवात से प्रभावित हैं। यहां अब तक 333 घरों, 644 खंभों, 147 ट्रांसफर्मरों, 57 किलोमीटर सड़कों, 57 जालों और 104 नावों को क्षति पहुंची है।

मौसम विभाग के अनुसार, गुजरात के तटीय इलाकों को पार करने के बाद चक्रवाती तूफान ‘ताउते’ राजस्थान और हरियाणा की तरफ मुड़ेगा। मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली भी इसके असर में है। अगले तीन दिनों तक दिल्ली में बारिश होगी। इन दौरान अधिकतम तापमान 30 से 33 डिग्री के आसपास दर्ज हो सकता है।

दूसरे शब्दों में कहें तो दिल्ली में प्री मॉनसून गतिविधियां शुरू हो गई हैं। अगले दो घंटों के दौरान उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान के कई इलाकों और आसपास हल्की से लेकर मध्यम बारिश हो सकती है।   बुधवार को दिल्ली-एनसीआर के ज्यादातर इलाकों में मध्यम बारिश का अनुमान है। इसके अलावा कुछ इलाकों में भारी बारिश भी हो सकती है। मौसम विभाग ने आंधी को लेकर यलो अलर्ट जारी कर दिया है। हल्की बारिश की संभावना बनी हुई है। 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी। अधिकतम तापमान महज 30 डिग्री बना रहेगा।

You might also like

Comments are closed.