पूरी तरह खत्म हो सकती है मुफ्त ‘इनकमिंग’ की सुविधा, कॉल ‘रिसीव’ करने के लिए भी देने पड़ेंगे पैसे, जानें

समाचार ऑनलाइन- ‘सुख भरे दिन बीते रे भैय्या दुःख भरे दिन आए रे…’ मोबाईल यूजर्स की वर्तमान स्थिति पर यह लाइन बिलकुल फीट बैठती है. क्योंकि पिछले लंबे समय से फ्री इनकमिंग का मजा ले रहे मोबाईल यूजर्स के लिए अब यह सुविधा कुछ ही दिनों की मेहमान है. क्योंकि अब आगामी दिनों में कॉल रिसीव करने के लिए भी आपको पैसे चुकाने पड़ेंगे. या यह कहना गलत नहीं होगा कि मुफ्त इनकमिंग कॉल का दौर अब पूरी तरह से खत्म हो सकता है.

आज ही खबर आई है कि मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनियों द्वारा नई टैरिफ दरें लागू कर दी गई हैं. नतीजतन इससे ग्राहकों के खर्च में डेढ़ गुना तक इजाफा होना पक्का माना जा रहा है. कंपनियों द्वारा सबसे पहले और सबसे  बड़ा झटका इनकमिंग कॉल पर दिया गया है. कंपनियों ने फेयर यूजेज पॉलिसी (एफयूपी) के नाम पर यूजर्स से दूसरे नेटवर्क पर कॉल करने पर 6 पैसे प्रति मिनट वसूलने का फैसला लिया है. इसको देखते हुए जानकारों का कहना है कि, यह सिर्फ एक प्रारंभ है. आगामी दो-तीन तिमाहियों में मुफ्त इनकमिंग कॉल एक पुरानी याद बन कर रह जाएगा. यानि कि मुफ्त इनकमिंग कॉल का दौर पूरी तरह समाप्त होने की कगार पर है.

इस बाबत SBI कैपिटल सिक्योरिटीज के मुख्य शोधकर्ता राजीव शर्मा का कहना है कि, पहले जियो ने अन्य नेटवर्क पर कॉल करने पर आईयूसी चार्ज के तहत 6 पैसे प्रति मिनट वसूलना शुरू किया था. इसका फायदा उठाते हुए अब वोडा आइडिया व एयरटेल ने भी एफयूपी लागू कर दिया है.

शर्मा के मुताबिक, वाइस कॉल की दरें फिर से पूरी तरह वापस आ गई हैं. हालाँकि अभी यह दरें शून्य तक नहीं जा सकती, क्योंकि कंपनियां इसके लिए एफयूपी और ऑफ नेट का इस्तेमाल करती हैं. इसलिए संभावना है कि दूरसंचार कंपनियां आगामी 6-9 महीने में अपने नेटवर्क पर भी कॉलिंग शुल्क वसूलने लग जाए और मुफ्त इनकमिंग कॉल  पूरी तरह खत्म हो जाए.

जियो ग्राहकों को होगा फायदा

हालाँकि जिओ पहले ही ऐलान कर चूका है कि हम अन्य कंपनियों से 20 फीसदी सस्ते टैरिफ देंगे, जबकि सेवाओं में 300 फीसदी बढ़ोतरी जारी रहेगी. इसलिए माना जा रहा है कि जिओ अपने ग्राहकों का विशेष

विशेषज्ञों का मानना है कि जियो के सर्वाधिक 90 फीसदी ग्राहक प्रीपेड हैं जिससे कम शुल्क बढ़ाकर भी कंपनी बड़ा मुनाफा कमा सकती है। वहीं, वोडा आइडिया और एयरटेल के कुल ग्राहकों में से करीब 30 फीसदी पोस्टपेड हैं और कंपनी ने इस सेग्मेंट में कोई बढ़ोतरी नहीं की है।

शेयर में आई बढ़ोतरी, 33 हजार करोड़ बढ़ी पूंजी
मोबाईल प्रदाता कंपनियों द्वारा टैरिफ बढ़ाने संबंधी घोषणा किए जाने के बाद सोमवार को दूरसंचार कंपनियों के शेयर एक साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए हैं.  वोडा आइडिया, एयरटेल और जियो ने संयुक्त रूप से 33 हजार करोड़ की पूंजी कमाई है. बीएसई पर वोडा आइडिया के शेयर 7.79 फीसदी चढ़े

visit : punesamachar.com

Comments are closed.