शरजील उस्मानी के खुले समर्थन में आयी एल्गार परिषद

पुणे : पुणे समाचार ऑनलाइन – एल्गार परिषद कार्यक्रम में एएमयू के पूर्व छात्र शरजील उस्मानी के भाषण के बाद से उठा बवाल वो अभी भी थमता नहीं नजर आ रहा है। इस कार्यक्रम का आयोजन करने वाले एल्गार परिषद ने शरजील उस्मानी का खुला समर्थन किया है और भाजपा और आरएसएस पर उसे बदनाम करने का आरोप लगाया है। ज्ञातव्य है कि शरजील पर भारत और हिंदू समाज के खिलाफ उकसाने वाले और भड़काऊ भाषण देने को लेकर मामला दर्ज किया गया है।

एलगार परिषद के कार्यक्रम में शरजील पर हिंदू समुदाय और भारतीय राज्य के खिलाफ आपत्तिजनक भाषण देने का आरोप लगाया गया है। इस पर एलगार परिषद ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर, ‘भीमा कोरेगांव शौर्य दिवस प्रेरणा अभियान’ ने एक बयान पोस्ट करते हुए कहा, 30 अप्रैल 2021 को एल्गार परिषद में शरजील उस्मानी के एक बयान को ब्राह्मणवादी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, भाजपा और संघ परिवार ने गलत तरीके से पेश किया है। एल्गार परिषद ने अपने बयान में कहा कि, संघ परिवार ने फिर से शरजील को निशाना बनाकर अपनी जातिगत और सांप्रदायिक घृणा का परिचय दिया है।

बहरहाल जहाँ कार्यक्रम के आयोजक एल्गार परिषद शरजील उस्मानी के साथ मजबूती से खड़ी नजर आ रही है वहीं भाजपा उस्मानी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर आक्रामक है। महाराष्ट्र सरकार ने कहा था कि पुणे में एल्गार परिषद सम्मेलन के भाषण की जांच की जाएगी। अगर कोई दोषी पाया गया तो कार्रवाई की जाएगी। इस परिषद में लेखिका अरुंधती राय और पूर्व आईपीएस अफसर एसएम मुशरिफ और शरजील समेत कई लोग शामिल हुए थे। शरजील के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 153-ए के तहत स्वारगेट पुलिस थाने में मामला दर्ज की किया है।

You might also like

Comments are closed.