Loading...

कंपनी दे रही ऑफर…मात्र पौने दो लाख में अमेरिका का 4 दिवसीय टूर,  वैक्सीन लगवाकर वापस आ जाइए

Loading...

नई दिल्ली/मुंबई. ऑनलाइन टीम 
कोरोना से राहत पाने के लिए हर कोई छटपटा रहा है, लेकिन कहीं से कोई उम्मीद की कोई किरण ही नहीं दिख रही है। वैक्सीन की उम्मीद में दुनिया कभी अमेरिका, तो कभी चीन को निहार रही है। भारत भी इस दौड़ में आगे है और इसी बीच ऐसी खबर आ रही है कि एक कंपनी वैक्सीन लगाने का ऑफर पेश कर रही है। यह कंपनी मुंबई की है।

Loading...

ऑफर के अनुसार,  अमेरिका जाकर टीका लगवाने और इस दौरान वहां रहने का इंतजाम कंपनी की ओर से किया जाएगा। चार दिन के इस टूर की कीमत 1.75 लाख रुपये है। कंपनी ‘वैक्सीन टूरिज्म’ करार दे रही है। टीजर में कहा गया है कि   “जैसे ही अमेरिका में फाइजर वैक्सीन आधिकारिक रूप से बिक्री के लिए उपलब्ध (संभावित तारीख 11 दिसंबर) होगी, हम चुनिंदा वीवीआईपी क्लाइंट्स के लिए व्यवस्था करने को तैयार हैं।” पैकेज में मुंबई से न्यूयॉर्क आने-जाने का हवाई किराया, तीन रात और चार दिन का स्टे विद ब्रेकफस्ट और वैक्सीन की एक डोज शामिल है। कंपनी के मेसेज में साफ कहा गया है कि कहा गया है, ‘हम न तो वैक्सीन रख रहे हैं, न ही खरीद रहे हैं।

Loading...

सबकुछ अमेरिकी कानूनों के हिसाब से होगा। हम केवल आपकी जरूरत प्रोसेस करेंगे।’  डरने वाली कोई बात इसलिए नहीं है कि कंपनी कोई ऐडवांस या डिपॉजिट अभी नहीं करा रही। रजिस्ट्रेशन के लिए नाम, ईमेल, मोबाइल नंबर, उम्र, बीमारी की डीटेल्स और पासपोर्ट कॉपी ली जा रही है। कंपनी के मुताबिक, आगे की प्रक्रिया अमेरिका के स्वास्थ्य विभाग की अनुमति के हिसाब से पूरी की जाएगी। कंपनी ने सचेत करते हुए लिखा है कि “जब तक वे आधिकारिक रूप से अमेरिकी नागरिकों के इतर बाकी लोगों को वैक्सीन देने की घोषणा नहीं कर सकते, हम आपको वैक्सीन नहीं दिला सकते।”

जहां तक भारत की बात है तो सरकार को उम्मीद है कि जुलाई 2021 तक उसे 40 से 50 करोड़ डोज मिल जाएंगी। इनकी मदद से 20-25 करोड़ भारतीयों का टीकाकरण हो सकेगा। अक्टूबर में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा था कि प्राथमिकता उन लोगों को दी जाएगी, जिन्हें संक्रमण का खतरा ज्यादा है। इस कारण भी इस टूर को प्रोत्साहन मिलने की उम्मीद कंपनी को है। हालांकि कई लोगों से मिली जानकारी के अनुसार, कंपनी से संपर्क करने पर कोई प्रतिसाद नहीं मिला।

Loading...

Comments are closed.