लड़की और उसकी मां की हत्या कर फरार हत्यारे ने की आत्महत्या!

हिंगोली : ऑनलाइन टीम – पनवेल में लड़की और उसकी मां की हत्या कर फरार आरोपी हिंगोली जिले के अपने गांव में छुपा हुआ था। आरोपी द्वारा वैजापूर तालुका आत्महत्या करने का मामले सामने आया है। 21 फ़रवरी को दोपहर 3 बजे के आसपास यह घटना सामने आई।

दोहरी हत्याकांड कर फरार था आरोपी –
18 फ़रवरी को पनवेल तालुका के दापोली गांव में दोहरी हत्याकांड की घटना सामने आई थी। शादी के लिए मना करने पर आरोपी ने मां और लड़की को धारदार हथियार से हत्या कर दी और वो फरार हो गया। सुबह 8 बजे यह घटना सामने आई। सुरेखा बलखंडे (मां) और सुजाता बलखंडे (लड़की) मृतकों के नाम है। सुरेखा के पति भी इस घटना में घायल हो गए। उनका इलाज पनवेली के एक अस्पताल में शुरू है। वह पनवेल तालुका के दापोली गांव के निवासी है।

आरोपी प्रकाश यशवंता मोरे (26, रा. पहेनी, ता. जि. हिंगोली) घटना के बाद से फरार था। वह अपने मूल गांव पहेनी शिवारात में छुपा हुआ था। रविवारी 3 बजे के आसपास आरोपी ने एक पेड़ में लटकर आत्महत्या कर ली।

क्या है पूरा मामला –
सिद्धार्थ बलखंडे और सुरेखा बलखंडे (रा. रूपूर, ता. कळमनुरी, जि. हिंगोली) दंपति कई सालों से पनवेल में एक कंपनी में काम करते थे। आरोपी प्रकाश यहां पनवेल में टिप्पर चालक का काम करता है। प्रकाश और बलखंडे दंपति एक ही घर पर रहते थे। हिंगोली जिले में आने के बाद दोनों का परिचय हुआ था। एक दिन आरोपी प्रकाश ने सिद्धार्थ बलखंडे और सुरेखा बलखंडे की 18 साल की बेटी सुजाता हिला से शादी करने की बात कही।

प्रकाश पिछले कुछ समय से शादी करने की बात कह रहा था। लेकिन, प्रकाश का पहले भी शादी हो चूका था। लेकिन उनकी पत्नी की डिलीवरी के वक़्त मौत हो गयी थी। जिस वजह से सुजाता के माता-पिता उससे शादी कराने से इंकार कर रहे थे।

आरोपी प्रकाश ने 18 फ़रवरी को फिर से शादी की बात कही। इस बार भी दंपति ने शादी से इंकार कर दिया। इस दौरान प्रकाश को गुस्सा आ गया और उसने सुजाता और उसके माता-पिता पर हमला कर दिया। इस हमले में सुजाता और उसकी मां की मौत हो गयी। घटना के बाद प्रकाश फरार था। प्रकाश के आत्महत्या के बाद नर्सी पुलिस और मुंबई पुलिस की टीम मौके पर पहुंची है।

You might also like

Comments are closed.