खेती के लिए लूट लिया पाइप से भरा टेम्पो

क्राइम ब्रांच ने 3 आरोपियों पर कसा शिकंजा; सवा 11 लाख का माल बरामद

पिंपरी : समाचार ऑनलाइन – अकाल के चलते खेती में पाइपलाइन डलवाने के लिए चालक को अगवा कर पाइप से भरा टेम्पो ही लूट लिए जाने की वारदात को पिंपरी चिंचवड़ पुलिस की क्राइम ब्रांच के यूनिट 1 ने सुलझा लिया है। इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर उनसे 11 लाख 29 हजार 512 रुपये का माल बरामद किया गया है। गिरफ्तार आरोपियों में अमोल विक्रम मोरे (20, निवासी गणेशनगर, येरवडा), समाधान त्रिंबक दौंड (23, निवासी गणेशनगर, येरवडा) और संदीप राजेंद्र मोरे (28, निवासी शेलपिंपलगांव, खेड) का समावेश है। उनके खिलाफ टेम्पो चालक भास्कर श्रीपतराव लांडगे ने चाकण पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

क्राइम ब्रांच यूनिट 1 के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक उत्तम तांगडे से मिली जानकारी के अनुसार, तीनों आरोपी मूल उस्मानाबाद जिले के निवासी है। उनका गांव भीषण अकाल से जूझ रहा है। खेत में पानी पहुंचाने के लिए उन्हें पाइपलाइन डलवानी थी। मगर पैसों की कमी के चलते वह संभव नहीं हो पा रहा था। इसी वजह से उन्होंने पाइप से भरा टेम्पो लूटने का प्लान बनाया। गिरफ्तार आरोपियों में शामिल संदीप मोरे खेड़ तालुका स्थित शेलपिंपलगांव में शिक्रापूर रोड पर रहता है। उसके घर के सामने कई वाहन रुकते हैं। यहीं उन्होंने अपने प्लान को अंजाम देना तय किया।

कैसे की वारदात
6 जून को उन्होंने यहां पर फिनोलेक्स कंपनी के पाइप से भरा एक टेम्पो खोज निकाला। रात पौने 12 बजे के करीब चाकण- शिक्रापूर रोड पर भास्कर लांडगे के टेम्पो को रोका। खुद को फाइनान्स के लोग बताकर टेम्पो की किश्त बकाया रहने की जानकारी देकर भास्कर को दोपहिया पर बिठाया और तीसरे आरोपी ने टेम्पो पर कब्जा किया। टेम्पोचालक को दिघी में उसका मोबाइल फोन छीनकर छोड़ दिया और टेम्पो सीधे उस्मानाबाद ले गए। भास्कर की शिकायत पर चाकण पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। इस बीच क्राइम ब्रांच यूनिट 1 को आरोपियों के बारे में पता चला साथ ही यह भी मालूम हुआ कि आरोपी येरवडा के बीड़ी चाल में छिपे हैं। इसके अनुसार जाल बिछाकर उन्हें धरदबोचा गया।

कैसे सुलझी गुत्थी
पूछताछ में उन्होंने पाइप से भरा टेम्पो उस्मानाबाद ले जाने की जानकारी दी। इसके अनुसार यरमाला और दलवेवाडी से चुराया गया टेम्पो और उसमें भरे फिनोलेक्स के 900 पाइप आदि 11 लाख 29 हजार 512 रुपए का माल बरामद कर लिया। आरोपियों ने यह भी बताया कि उन्होंने चोरी किये गए पाइप को खेती की पाइपलाइन के लिए इस्तेमाल करने के बाद बचे पाइप और टेम्पो को बेचने की तैयारी की थी। इस कार्रवाई को यूनिट 1 के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक उत्तम तांगडे, सहायक पुलिस निरीक्षक गणेश पाटील, उपनिरीक्षक कालूराम लांडगे, कर्मचारी प्रमोद वेताल, राजेंद्र शेटे, अमित गायकवाड, प्रमोद लांडे, मनोजकुमार कमले, सचिन मोरे, सूनील चौधरी, प्रमोद केलकर के समावेशवाली टीम ने अंजाम दिया।

You might also like

Comments are closed.