तेजस्वी ने कहा- नीतीश कुमार अनुकम्पा के मुख्यमंत्री, थक गए हैं बिहार संभल नहीं रहा

पटना. ऑनलाइन टीम : असम में सियासी जंग तेज हो गईं है। नेताओं का कुनबा इस प्रदेश की ओर निकल चुका है। मकसद एक ही है, भाजपा और पीएम मोदी पर जहर उगलना। इसे राजनीतिक मौके की तलाश कहते हैं और कोई भी राजनीतिक चेहरा इसे भुनाने में कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहता। आरजेडी नेता तेजस्वी यादव भी इन राज्यों में चुनाव के मद्देनजर पार्टी की रणनीतिक तैयारी में जुट गए हैं। तेजस्वी शुक्रवार को असम के दौरे पर रवाना हुए।

रवाना होने से पहले आखाड़े के पहलवान की तरह तोल ठोंकते हुए कहा-  नीतीश कुमार अनुकम्पा के मुख्यमंत्री हैं। इनसे बिहार संभल नहीं रहा है। थके हुए मुख्यमंत्री हैं। हम मां कामख्या का आशीर्वाद लेने जा रहे हैं। वहां से लौटकर नई ताकत के साथ फिर भिड़ेंगे।

मुजफ्फरपुर और सीतामढ़ी में हुई घटना पर कहा-बिहार में शराब माफियाओं का राज है। वह बिहार में समानांतर व्यवस्था चला रहे हैं और सरकार इसे रोकने में विफल है।  आखिर शराब आ कहां से आ रहा। जिस तरह से सीतामढ़ी में घटना हुई, आज पुलिस का ही एनकाउंटर हो रहा है। ऐसे में नीतीश कुमार के पास गृह मंत्रालय है, ऐसे में जिम्मेवारी उन्हीं के पास है। ऐसे में उनको इसका जवाब देना चाहिए।

आरजेडी नेता ने कहा कि हम गुवाहाटी में बदरुद्दीन अजमल से मिलने के साथ ही कांग्रेस पार्टी के नेताओं से भी मिलेंगे। वहां राजनीतिक रणनीति बनाई जाएगी।

You might also like

Comments are closed.