Success Story | केवल 7 वर्ष की उम्र में हो गई दृष्टिहीन ; ब्रेल लिपि में पढ़कर बनी देश की पहली दृष्टिहीन महिला IAS 

मुंबई (Mumbai News), 15 सितंबर : मन में जिद्द और आत्मविश्वास  (Success Story) हो तो कुछ भी असंभव नहीं।  यह अब तक आपने पुस्तकों में पढ़ा होगा या टीवी में देखा होगा।  लेकिन एक व्यक्ति ने न केवल जिद्द बल्कि अनगिनत संकट क सामना करते हुए देश ही नहीं बल्कि दुनिया में सबसे कठिन माने जाने वाले परीक्षा UPSC पास की है।  आंखों के सामने अंधेरा हो तो हम अपने दोनों कदम आगे नहीं बढ़ा सकते है।  लेकिन उल्हासनगर (Ulhasnagar) की प्रांजल पाटिल (Pranjal Patil) दृष्टिहीन होने के बावजूद IAS बनने का सपना (Success Story) पूरा किया है।

 

महाराष्ट्र (Maharashtra) के उल्हासनगर की रहने वाली प्रांजल पाटिल ने अपनी शुरूआती पढाई मुंबई (Mumbai) के दादर के श्रीमती कमला मेहता स्कूल (Smt. Kamala Mehta School) से की है. यह प्रांजल जैसी स्पेशल लड़कियों के लिए है और यहां ब्रेन लिपि (Brain Script) में पढाई जाती है।  यहां से दसवीं करने के बाद प्रांजल ने चंदाबाई कॉलेज (Chandabai College) से साइंस में बारहवीं की और 85% अंक प्राप्त किया।  इसके बाद उन्होंने मुंबई के सेंट जेवियर्स कॉलेज (St. Xavier’s College) से डिग्री हासिल की।
प्रांजल (Pranjal Patil) जब डिग्री में थी तभी उसने UPSC  विषय पर एक लेख पढ़ा था।  इसके बाद UPSC  से वह काफी प्रभावित हुई थी।  इसके बाद उसने UPSC  के बारे में जानकारी जुटानी शुरू की।  उन्होंने इसके बारे में किसी से बात नहीं की और तैयारी शुरू कर दी।  इस दौरान उन्होंने JNU से पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा किया।
प्रांजल पाटिल ने एक बड़ा सॉफ्टवेयर तैयार किया है जो दृष्टिहीनों को स्क्रीन पर रिफ्रेश करने वाला ब्रेल डिस्प्ले सहित स्क्रीन पर लिखे पढ़ने में प्रभावी है। UPSC परीक्षा की तैयारी विशेष सॉफ्टवेयर की मदद से की थी जिसकी वजह से वह बुक पढ़ पाती थी।
प्रांजल पाटिल ने 2016 में पहली पर UPSC की परीक्षा दी और देशभर में 773 रैंक हासिल किया।
लेकिन दृष्टिहीन होने की वजह से उन्हें रेलवे अकाउंटेंट की नौकरी नहीं मिली।  इसके बाद भी उन्होंने हार नहीं मानी।  अगले वर्ष 2017 में UPSC की परीक्षा में 124 वा स्थान हासिल किया और देश में इतिहास बनाया और देश में पहली दृष्टिहीन महिला  IAS (First Blind Woman IAS) बनने का गौरव हासिल किया।  पुरे महाराष्ट्र  (Maharashtra) को प्रांजल पर नाज है।

 

 

 

Babul Supriyo | बाबुल सुप्रियो हुए TMC में शामिल, मिल सकता है बड़ा इनाम

Ajit Pawar | सहकारी बैंकों में केंद्र के हस्तक्षेप के खिलाफ कोर्ट जाएंगे : अजीत पवार

You might also like

Comments are closed.