मुझे भारत रत्न देने के कैंपेन को बंद करे, देश के विकास में योगदान देना ही मेरा लिए सौभाग्य : रतन टाटा

नई दिल्ली : ऑनलाइन टीम – अब लोग ट्विटर पर देश के जाने-माने उद्योगपति रतन टाटा के लिए भारत रत्न की मांग कर रहे हैं। जिस वजह से शुक्रवार को ये मुद्दा ट्विटर पर ट्रेंड करने लगा। इसके अलावा सोशल मीडिया पर एक विशेष अभियान भी चलाया जा रहा है, हालांकि अब रतन टाटा ने तक इस पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। रतन टाटा ने इस मामले पर ट्वीट करते हुए कहा कि मैं उन लोगों के सेंटीमेंट्स का सम्मान करता हूं जो मेरे लिए इस अवार्ड की मांग कर रहे हैं। लेकिन, मैं सबसे आग्रह करता हूं कि ऐसे कैंपेन जो हटाया जाए। मैं एक भारतीय होने में सौभाग्य महसूस करता हूं और भारत की ग्रोथ में अपना योगदान देने की पूरी कोशिश करता रहूंगा।

https://twitter.com/RNTata2000/status/1357896316047736832

रतन टाटा अपने सौम्य स्वभाव के लिए जाने जाते हैं और बिजनेस के अलावा वो समाजसेवा के भी काम लगातार करते रहते हैं। दरअसल सबसे पहले मोटिवेशनल स्पीकर डॉ. विवेक बिंद्रा ने एक ट्वीट किया, जिसमें रतन टाटा को भारत रत्न दिए जाने की मांग की गई। उन्होंने लिखा कि रतन टाटा का मानना है कि आज के उद्यमियों की पीढ़ी भारत को अगले स्तर पर ले जा सकती है। हम चाहते हैं कि देश के सबसे बड़े नागरिक सम्मान भारत रत्न से उन्हें सम्मानित किया जाए। आप सभी इस कैंपेन में हमारा साथ दीजिए। इस ट्वीट में उन्होंने रतन टाटा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री कार्यालय और राष्ट्रपति को टैग किया है।

https://twitter.com/DrVivekBindra/status/1357565334232829954

इसके बाद बड़ी संख्या में लोग इस अभियान से जुड़े और उन्होंने विवेक बिंद्रा के ट्वीट को रिट्वीट किया। कुछ ही देर बाद Ratan Tata और BharatRatnaForRatanTata हैशटैग टॉप ट्रेंड में आ गया। एक यूजर ने इस ट्वीट पर कमेंट करते हुए लिखा कि विनम्रता और सादगी से भरे रतन टाटा को देश के सर्वोच्च सम्मान यानी भारत रत्न से सम्मानित करने की हम मांग करते हैं।

You might also like

Comments are closed.