शॉकिंग ! फर्जी आधार कार्ड पर सफर कर रहे 3 यात्री पकड़े गए

मुंबई : समाचार ऑनलाइन – पश्चिम रेलवे की सतर्कता टीम द्वारा नकली आधार कार्ड पर यात्रा कर रहे तीन यात्रियों को पकड़ा गया. 4 नवम्बर, 2019 की गहन जाँच के दौरान सतर्कता टीम ने नकली आधार कार्ड पर यात्रा कर रहे तीन फर्जी यात्रियों को पकड़ा तथा आगे की कार्रवाई के लिए उन्हें आरपीएफजीआरपी को सौंप दिया.

नकली आधार कार्ड पर यात्रा कर रहे यात्रियों ने एक एजेंट का नाम बताया है, जिसने इस प्रकार का नकली आईडी कार्ड बनाया था तथा उसे शीघ्र ही पकड़ने की कार्रवाई की जा रही है.

67 नकली यात्रियों को पकड़ा गया
पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी रविंद्र भाकर द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार यह औचक जाँच उप मुख्य टिकट निरीक्षक-अहमदाबाद नीरज मेहता एवं उप मुख्य टिकट निरीक्षक-सीसीएम के साथ सतर्कता निरीक्षक शेख मोहम्मद जुबेर एवं मुख्य सतर्कता निरीक्षक हिमांशु कपाड़िया की टीम द्वारा ट्रेन सं.22956 भुज-बांद्रा टर्मिनस कच्छ एक्सप्रेस में की गई 30 अक्टूबर अब तक की गई औचक जाँचों के परिणामस्वरूप 67 नकली यात्रियों को पकड़ा गया तथा उनसे 62,310 रु.की वसूली की गई है. इसके अतिरिक्त आरपीएफ अहमदाबाद ने आशीष दर्जी नामक एक एजेंट को भी पकड़ा, जिसके पास से 98 ई-टिकटों को जब्त किया गया.

इनमें से 91 टिकट सतर्कता विभाग द्वारा पकड़े गये 282 संदिग्ध पीएनआर से सम्बंधित थे. हाल ही में सतर्कता टीम ने पीआरएस सिस्टम में कुछ संदिग्ध बुकिंग ट्रांजैक्शन की छानबीन कर पता लगाया था कि ट्रेन सं.22956 भुज-बांद्रा टर्मिनस कच्छ एक्सप्रेस में बुक किये गये ई-टिकट दिवाली अवकाश के दौरान अलग-अलग तिथि पर एक ही नाम का उपयोग करते हुए बुक किये गये थे. यह भी संदेहजनक पाया गया था कि ये टिकट संदिग्ध सॉफ्टवेयर के माध्यम से अनधिकृत टिकट एजंटों द्वारा बुक किये गये हैं.

Comments are closed.