Shivsena MLA Mahesh Shinde | शिवसेना विधायक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देवेंद्र फडणवीस के कार्यों की सराहना की

सातारा (Satara News) : सातारा जिले के जिहे कटापूर पानी योजना का शिवसेना विधायक महेश शिंदे (Shivsena MLA Mahesh Shinde) ने उद्घाटन किया। उद्घाटन के बाद शिवसेना विधायक महेश शिंदे (Shivsena MLA Mahesh Shinde) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) की तारीफ की। शिवसेना विधायक ने बीजेपी (BJP) नेताओं की तारीफ करते हुए सबकी भौंहें चढ़ा दी हैं और तरह-तरह की चर्चाएं भी शुरू हो चुकी हैं।

 

सातारा जिले के खटाव इलाके को सूखाग्रस्त इलाके के रूप में जाना जाता है। इस क्षेत्र के नागरिकों को पानी की सुचारू आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए जिहे कटापूर योजना शुरू करने के बारे में तय हुआ। पिछले कई सालों से रुकी हुई इस योजना का उद्घाटन शिवसेना विधायक महेश शिंदे (Shivsena MLA Mahesh Shinde ) ने किया। इस अवसर पर विधायक महेश शिंदे ने कहा कि जिहे कटापूर योजना (Katapur Scheme) से खटाव तालुका के सूखा प्रवण क्षेत्रों को बहुत लाभ होगा। इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और देवेंद्र फडणवीस की वजह से हुई है। यह योजना हमारे लिए फलदायी होने वाली है।

 

सातारा (Satara) जिले के खटाव तालुका को सूखाग्रस्त क्षेत्र के रूप में जाना जाता है। इस क्षेत्र में पानी की कमी के कारण टैंकर से जलापूर्ति (Water supply) की जाती है। जिहे कटापूर योजना टैंकरों द्वारा पानी की आपूर्ति बंद कर सुचारू जल आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए तैयार की गई है।

 

शशिकांत शिंदे ने की आलोचना

 

कोरेगांव विधायक महेश शिंदे द्वारा जिहे कटापूर जलापूर्ति योजना (Katapur Water Supply Scheme) के उद्घाटन के बाद राष्ट्रवादी विधायक शशिकांत शिंदे ने इसकी कड़ी आलोचना की। विधायक शशिकांत शिंदे (MLA Shashikant Shinde) ने कहा कि शिवसेना के मनोहर जोशी (Manohar Joshi) जब मुख्यमंत्री थे तब कृष्णा खोरे विकास निगम का गठन हुआ था। इसलिए जिहे कटापूर योजना को बालासाहेब ठाकरे का नाम देने की मेरे जैसे कई लोगों की इच्छा थी। बालासाहेब ठाकरे से लगाव है तो स्थानीय जनप्रतिनिधियों को इस योजना को उनका नाम देना चाहिए।

 

इस योजना को अभी भी केंद्रीय जल आयोग (Central Water Commission) की ओर से निधि दी जाती है, ऐसा गिरीश महाजन ने कहा था, लेकिन वो निधि मिली ही नहीं। शशिकांत शिंदे ने कहा कि इस संबंध में पिछले महीने केंद्रीय जल आयोग को एक प्रस्ताव भेजा गया था, लेकिन अभी तक इसे मंजूरी नहीं मिली है।

 

इस योजना का उद्घाटन मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray),  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद पवार और जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल (Jayant Patil) की उपस्थिति में करने की तैयारी थी। हालांकि, श्रेय लेने के लिए कुछ लोगों ने इसका उद्घाटन कर दिया, ऐसा कहते हुए  शशिकांत शिंदे ने विधायक महेश शिंदे पर टिप्पणी की।

 

Ramdas Kadam | रामदास कदम को और एक झटका ; विधायक बनने का मौका फिर नहीं मिलेगा ?

You might also like

Comments are closed.