Shiv Sena BJP Alliance | क्या शिवसेना-बीजेपी फिर से करेगी गठबंधन? संजय राउत ने दिया ‘यह’ जवाब

मुंबई  (Mumbai News) – कल औरंगाबाद (Aurangabad) में एक सार्वजनिक समारोह में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) द्वारा दिए गए बयान के बाद शिवसेना-भाजपा गठबंधन (Shiv Sena BJP Alliance) पर हर तरह चर्चा शुरू हो गयी है। साथ ही राजनीतिक हलकों में तरह-तरह की बहसें भी होने लगीं है। क्या सच में शिवसेना और बीजेपी का फिर से गठबंधन (Shiv Sena BJP Alliance) होगा? इस सवाल का जवाब शिवसेना नेता संजय राउत (Shiv Sena leader Sanjay Raut) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिया है। इस बार संजय राउत ने भी सीक्रेट धमाका किया है।

संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा मराठवाड़ा में दिया गया बयान ठाकरे शैली का भाषण था। उद्धव ठाकरे ने कहीं नहीं कहा है कि नया गठबंधन होगा, सरकार गिरेगी या हम इस सरकार को छोड़ देंगे। उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) की ओर से स्पष्ट संकेत हैं कि जो भविष्य के सहयोगी बनना चाहते हैं, वे हमारे पास आना चाहते हैं। उन्होंने उंगली उठाई है, नाम और राजनीति में दिखने वाले आंदोलनों का जिक्र किया है। खासकर चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) का वह बयान जो पूर्व मंत्री नहीं कहता। इसका मतलब है कि कोई है जो यहां आना चाहता है और उद्धव ठाकरे ने इशारा किया है कि तुम आओ। संजय राउत ने यह कहते हुए धमाका कर दिया है कि बहुत से लोग आना चाहते हैं।

यह सरकार पूरे पांच साल चलेगी। शिवसेना (Shiv sena) का शब्द पक्का है। शिवसेना कभी धोखा नहीं देती। शिवसेना के पास मजबूत बेंच नहीं है। शिवसेना अपनी बात नहीं तोड़ती इसलिए यह सरकार नहीं गिरेगी। किसी को भी इस भ्रम में नहीं रहना चाहिए कि नया गठबंधन होगा। संजय राउत ने स्पष्ट किया है कि शिवसेना-भाजपा गठबंधन (Shiv Sena BJP Alliance) नहीं होगा।

संजय राउत ने कहा कि पार्टी के नेताओं ने शिवसेना भवन (Shiv Sena Bhawan) को गिराने की भाषा का इस्तेमाल किया। पार्टी के लोग जो मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ अपमान का इस्तेमाल करते हैं। हम उस पार्टी से कैसे हाथ मिलाते हैं जो कान के नीचे भाषा का इस्तेमाल करती है। उद्धव ठाकरे ने साफ कर दिया है कि हम यहां आने वाले किसी भी व्यक्ति का स्वागत करते हैं।

 

 

Shiv Sena और NCP ने बनाया मास्टर प्लान, भाजपा में बड़ी सेंध लगेगी ?

Ajit Pawar | सहकारी बैंकों में केंद्र के हस्तक्षेप के खिलाफ कोर्ट जाएंगे : अजीत पवार

You might also like

Comments are closed.