महाराष्ट्र चुनाव के दौरान शरद पवार-उद्धव ठाकरे की फ़ोन टैपिंग ! सरकार ने जांच के आदेश दिए 

 

मुंबई : समाचार ऑनलाइन – महाराष्ट्र में सरकार तो बन चुका है लेकिन विधानसभा चुनाव के समय से शुरू हुआ विवाद नए नए मोड़ लेता जा रहा है. अब खबर आ रही है कि विधानसभा  चुनाव के दौरान शिवसेना और एनसीपी नेताओ के फ़ोन टेप कराये गए थे. इस मामले में राज्य सरकार ने जांच के आदेश दिए है. यह फ़ोन टैपिंग चुनाव नतीजों के बाद सरकार बनाने की कोशिशों के दौरान की गई थी.

मिली जानकारी के अनुसार जिन नेताओ के फ़ोन टेप किये गए उनमे शरद पवार, उद्धव ठाकरे और संजय राऊत का नाम शामिल है. इस खबर के सामने आने के बाद शिवसेना नेता संजय राऊत ने कहा कि मैं बाल ठाकरे का चेला हूं, जो कुछ करता हूं खुले तौर पर करता हूं।

कैबिनेट मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि महाराष्ट्र चुनाव के दौरान गैरबीजेपी नेताओ के फ़ोन टेप किये गए. हमने इस मामले में जांच के आदेश दिए है. संजय राऊत ने कहा कि एक सीनियर बीजेपी नेता दवारा उन्हें पहले ही आगाह किया गया था.
संजय राऊत ने ट्वीट कर कहा, आपका फ़ोन टेप किया जा रहा है. काफी समय पहले एक बीजेपी नेता ने कहा था. तब मैंने उनसे कहा था जो भी मेरी बातचीत सुनना चाहता है सुने। मैं बालासाहेब ठाकरे का चेला हूं, मैं कुछ भी छिपा कर नहीं करता हूं.  महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने गुरुवार को कहा कि फ़ोन टेपिंग की बात सच है तो यह सरकारी सिस्टम का दुरूपयोग है. इस मामले की गंभीरता को देखते हुए तुरंत मुंबई साइबर सेल को जांच के आदेश दिए गए है.
You might also like

Comments are closed.