कमजोर पड़ी दूसरी लहर लेकिन पिछले 26 दिनों में 1 लाख कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत

ऑनलाइन टीम- भारत कोरोना वायरस की दूसरी लहर से जूझ रहा है। तीसरी लहर की आहट से लोग अभी से ही परेशान हैं। पिछले साल के मुकाबले इस साल कोरोना वायरस का कहर कुछ अधिक डरावना साबित हुआ। कई लोगों को अपनो से दूर होना पड़ा, कई परिवार तबाह हो गए तो कुछ लोगों का पूरा परिवार ही खत्म हो गया। मई महीने में 1 लाख से अधिक लोगों की जान गई है। अभी लहर कुछ ठंडा होते दिख तो रहा है लेकिन मृतकों के आंकड़ों पर अंकुश लगाना जरूरी है।

मई महीना भारत के लिए किसी विपदा से कम नहीं है। कोरोना वायरस के प्रकोप के बाद मई महीना सबसे घातक महीना साबित हुआ है। 1 मई से 26 मई तक भारत में 1,02,742 लोगों की कोरोना वायरस से मौत हुई है।

देश में कोरोना महामारी के आंकड़े

बीते 24 घंटे में कुल नए केस आए- 2.11 लाख

बीते 24 घंटे में कुल ठीक हुए- 2.82 लाख

बीते 24 घंटे में कुल मौतें- 3,841

अब तक कुल संक्रमित हो चुके- 2.73 करोड़

अब तक ठीक हुए- 2.46 करोड़

अब तक कुल मौतें- 3.11 लाख

अभी इलाज करा रहे मरीजों की कुल संख्या- 24.15 लाख

महाराष्ट्र में कोरोना की स्थिति

यहां बुधवार को 24,752 लोग संक्रमित पाए गए। 23,065 लोग ठीक हुए और 992 लोगों की मौत हो गई। अब तक राज्य में 56.50 लाख लोग संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं। इनमें 52.41 लाख लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 91,341 लोगों की मौत हो गई। 3.15 लाख मरीजों का अभी इलाज चल रहा है।

अमेरिका-ब्राजील के बाद सबसे ज्यादा मौत भारत में

भारत ने 2  दिन पहले ही कोरोना से मौतों का 3 लाख का आंकड़ा पार किया है। आज यह आंकड़ा 3,15,15,263 हो गया है जो अमेरिका और ब्राजील के बाद सबसे ज्यादा है। अमेरिका की शीर्ष स्वास्थ्य एजेंसी सीडीसी (CDC) के मुताबिक, अमेरिका में कोरोना से मरीजों की मौतों की तादाद 5 लाख 87 हजार 342 तक पहुंच गई है। अमेरिका  में पिछले एक हफ्ते में 3528 मरीजों की मौत हुई है, जो रोजाना लगभग 500 के करीब है। यानी अमेरिका से रोज 7-8 गुना ज्यादा मौतें एक दिन में भारत में हो रही हैं।

You might also like

Comments are closed.