बुजुर्ग दंपति से लूटपाट करनेवाले गिरोह पर शिकंजा

पुणे। बंगले में घुसकर बुजुर्ग दंपति के साथ लूटपाट करने के मामले में पुणे पुलिस ने एक गिरोह पर शिकंजा कसने में सफलता प्राप्त की है। औंध इलाके के पुणे पुलिस में 25 अप्रैल को यह वारदात हुई थी। आरोपियों की पहचान संदीप हांडे, किशोर कल्याण घंगते, बोलेश चव्हाण, मंगेश गुंडे, राहुल बावने और विक्रम थापा के रूप में हुई। आरोपियों में से तीन औरंगाबाद जबकि अन्य जालना और नासिक के हैं।
25 अप्रैल की रात को, सशस्त्र गिरोह ने बुजुर्ग दंपति के बंगले में प्रवेश किया और उनके पर रसोइये पर हमला किया। आरोपियों ने दंपती को धमकी दी और अलमारी से 15.8 लाख का कीमती सामान लूट लिया, जिसमें 70 हजार रुपये की करेंसी, सोने और हीरे के आभूषण और अमेरिकी डॉलर शामिल थे। इस घटना के बाद पीड़ितों ने चतुःश्रृंगी पुलिस से संपर्क किया और शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने पर भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया।
सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से तीन दोपहिया, हीरे के गहने और 17.5 लाख रुपये के अन्य सामान बरामद किए।पुलिस उपायुक्त पंकज देशमुख ने कहा कि आरोपी उन बुजुर्ग नागरिकों के बारे में जानकारी एकत्र करते थे जो अकेले रहते थे और फिर अपने घर पर दोबारा वारदात को अंजाम देते थे। जांच में पता चला है कि यह गिरोह पुणे, पिंपरी चिंचवड़ और जालना में लूटपाट की घटनाओं में शामिल था। पुलिस उपनिरीक्षक महेश भोसले, मोहन जाधव, कर्मचारी दिनेश गडकुनश, श्रीकांत वाघवले, प्रकाश अवध और सुधाकर माने की टीम ने औरंगाबाद, जालना और नासिक से आरोपियों को गिरफ्तार किया।
You might also like

Comments are closed.