एटीएम मशीन काटकर 23 लाख रुपए चुरानेवाली अंतरराज्यीय गैंग पर शिकंजा

भोसरी पुलिस ने हरियाणा से की गिरफ्तारी; 26.33 लाख रुपए का माल बरामद
संवाददाता, पिंपरी। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की एटीएम मशीन को गैस कटर से काटकर उसमें से करीबन 23 लाख रुपए की नकदी चुराने की हालिया सामने आयी वारदात को पिंपरी चिंचवड़ की भोसरी पुलिस ने सुलझा लिया है। इस वारदात को अंजाम देनेवाली एक अंतरराज्यीय गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार कर उनसे 26 लाख 33 हजार रुपए का माल बरामद किया गया है। हरियाणा में जाकर पुलिस ने इस कार्रवाई को अंजाम दिए जाने की जानकारी पुलिस आयुक्त कृष्ण प्रकाश ने गुरुवार को एक संवाददाता सम्मेलन में दी।
अकरम दीनमोहम्मद खान (23, निवासी बदोपुर, रावली, फिरोजपुर झिरका, नुहु (मेवात) राज्य हरियाणा), शौकीन अक्तर खान (24, बदोपुर, रावली, तहसील फिरोजपुर झिरका, नुहु (मेवात) राज्य हरियाणा), अरसद आसमोहम्मद खान उर्फ सोहेब अख्तर (46, रहाडी, तौरू, नुहु, राज्य हरियाणा) ऐसे गिरफ्तार किए गए आरोपियों के नाम हैं। उनके साथ और तीन साथी भी वारदात में शामिल थे जो फरार हो चुके हैं, उनकी तलाश जारी है। भोसरी में पुणे- नासिक हाइवे पर पांजरपोल इलाके में हुई इस वारदात के बारे में 10 जून को अरविंद विद्याधर भिडे (58, निवासी सहकारनगर, पुणे) ने भोसरी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है।
9 जून की रात साढ़े 10 से 10 जून की सुबह साढ़े आठ बजे के बीच पांजरपोल में स्टेट बँक ऑफ इंडिया के एटीएम में सेंधमारी की वारदात सामने आयी थी। गैस कटर से मशीन काटकर 22 लाख 95 हजार 600 रुपए की नकदी रखी चार कैसेट निकाल ली। इस वारदात को सुलझाने में जुटी भोसरी पुलिस का अनुमान था कि ज्यादातर ऐसी वारदातें हरियाणा व राजस्थान की गैंग करती हैं। इसके अनुसार इस इलाके में आये इन राज्यों के वाहन, लोगों की जानकारी जुटाई गई। पुलिस का अनुमान सही निकला, मौका ए वारदात पर हरियाणा का एक ट्रक आने की जानकारी मिली। मोशी टोलनाके पर इस ट्रक को रोककर चालक अकरम दीनमोहम्मद खान से पूछताछ की गई। उसने वारदात स्वीकार ली, उसके पास से चोरी के पैसों में से उसके हिस्से में आये पौने चार लाख रुपए औए ऑक्सीजन सिलेंडर जब्त किया गया।
अकरम खान ने अपने साथियों के हरियाणा में रहने की जानकारी दी। इसके अनुसार पुलिस की एक टीम वहां पहुंची और अन्य दो लोगों को हिरासत में लिया। उनके हिस्से में चोरी के पैसों में से आये ढाई लाख रुपए और एटीएम मशीन के ट्रे बरामद किए गए। उनके अन्य तीन साथी फरार हैं, उनकी खोजबीन शुरू है। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि, वे लोग 5 जून को एटीएम में चोरी के इरादे से पिंपरी चिंचवड़ में आये। मशीन काटने के लिए जरूरी गैस कटर का सिलेंडर उन्होंने रास्ते में मंचर स्थित सिद्धि हॉस्पिटल के सामने खड़ी एंबुलेंस में से चुराया। दो दिन तक भोसरी इलाके में सुरक्षा रक्षक व अलार्म जैसे सुरक्षा संसाधनों के अभाव और सुनसान इलाकों के एटीएम सेंटर की खोजबीन की। 10 जून की मध्यरात पंजरपोल स्थित एसबीआई के एटीएम सेंटर में वारदात को अंजाम दिया। आरोपियों से 6 लाख 24 हजार 500 रुपये नकद, वारदात में इस्तेमाल किया गया ट्रक, गैस कटर, घरेलू गैस की टँकी, मेडिकल इस्तेमाल के दो ऑक्सिजन सिलेंडर, एटीएम में पैसे रखने के तीन ट्रे, दो कोयते, तीन मोबाईल फोन कुल 26 लाख 33 हजार 360 रूपये का माल बरामद किया गया।
इस कार्रवाई को भोसरी पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक शंकर आवताडे, पुलिस निरीक्षक (क्राइम) जितेंद्र कदम के नेतृत्व में उपनिरीक्षक रवि भवारी, कर्मचारी राकेश बोयणे, अजय डगले, गणेश हिंगे, बालासाहेब विधाते, सागर भोसले, समीर रासकर, संतोष महाडिक, सागर जाधव, आशिष गोपी, गणेश सावंत, सुमित देवकर, विनोद वीर, राजू जाधव की टीम ने अंजाम दिया।
You might also like

Comments are closed.