Sanjay Raut | हम डरपोक नहीं है, हम झुकेंगे नहीं, किरीट सोमैया के आरोप के बाद संजय राऊत की प्रतिक्रिया

मुंबई (Mumbai News), 20 सितंबर : भाजपा नेता किरीट सोमैया (Kirit Somaiya) के प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद शिवसेना नेता संजय राऊत (Sanjay Raut) ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।  उन्होंने कहा है कि किरीट सोमैया का नाटक यानी मराठी रंगभूमि का अपमान (Sanjay Raut) है।
केंद्र सरकार (Central Government) के इशारे पर महाविकास आघाडी (Maha Vikas Aghadi) को परेशान किया जा रहा है।  गृह मंत्रालय (Home Ministry) दवारा की गई कार्रवाई कानून और व्यवस्था बनाये रखने के लिए की गई है।  मुख्यमंत्री के आदेश पर हुआ यह कहना गलत है।  आरोप का सबूत हो तो पुलिस को दे या अन्य संस्था को दे। केंद्र सरकार इस तरह का आदेश नहीं देती है तो गृह मंत्रालय का काम कानून व्यवस्था बनाये रखने की है।  इसका मुख्यमंत्री कार्यालय से संबंध नहीं है।  लेकिन केंद्र सरकार के इशारे पर  जो किया जा रहा है उस पर आरोप लगाने का फैशन बन गया है।
किरीट सोमैया ने कहा है कि मुख्यमंत्री भगवा छोड़कर हरा रंग धारण करे।  लेकिन हमें हमारा त्यौहार मनाने दे।  इस पर संजय राऊत (Sanjay Raut) ने कहा कि भगवा छोड़कर हरे रंग के करीब गए है या नहीं उन्हें जल्द पता चल जाएगा।
आरोप लगाकर कई नेताओं पर केंद्र से दबाव डाला जाता है।  हसफ मुश्रीफ (Hasaf Mushrif) ने यह चुनौती स्वीकार की है।  हम डरपोक नहीं है।  हम रुकेंगे नहीं।

किरीट सोमैया का आरोप 

किरीट सोमैया ने कहा  है कि हसन मुश्रीफ की वजह से मैं अंबे माता के दर्शन नहीं कर पाया।  शिकायत करने वाले को गिरफ्तार किया गया।  शिकायतकर्ता को रोकने का इतिहास मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray) कर सकते है।  मुझे छह घंटे तक पकड़े रखा गया।  वकीलों के नोटिस के बाद मुझे विसर्जन में जाने दिया गया।  मुझे सीएसटी स्टेटों में रोका गया। मुझे गाड़ी नहीं  मिल पाए ऐसी व्यवस्था की गई। पुलिस ने झूठे बनाये गए आर्डर पढ़कर सुनाया और जब इसे चैलेंज किया तो वहां से भाग खड़े हुए।
भीड़ में मुझ पर हमला हो सकता है।  यह जानकारी मुझे दी गई।  मुझ पर कौन  करेगा? हसन मुश्रीफ के गुंडे ? पुलिस के खिलाफ मैं हाई कोर्ट जाऊंगा।  मुझ पर हमला हो यह सरकार की इच्छा है क्या ? इसी डर के साये में मुझ पर हमला होगा क्या ? यह शरद पवार (Sharad Pawar) की रणनीति है क्या ?

 

 

Maharashtra | पुरुषार्थ दिखाकर चंद्रकांत पाटिल चुनाव लड़ें; मुश्रीफ का पलटवार

You might also like

Comments are closed.