Sana Gulwani | पाकिस्तान में हिंदू युवती ने रचा इतिहास, सना ने कर दिखाया 

इस्लामाबाद (Islamabad News), 21 सितंबर : Sana Gulwani | पाकिस्तान (Pakistan) में हिंदू दवारा किये जाने वाले प्रशंसनीय कार्य की भारत (India) में निश्चित रूप से तारीफ की जाती है।  अब पाकिस्तान में एक हिंदू  लड़की ने इतिहास रचा है। इस युवती का नाम  सना रामचंद्र गुलवानी (Sana Ramchandra Gulwani) (उम्र 27) है।  डॉ. सना (Dr. Sana) ने सेंट्रल सुपेरियर सर्विसेज (Central Superior Services) की परीक्षा पहले ही प्रयास में पास कर ली है।  पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार एक हिंदू को इस परीक्षा में सफलता मिली है। परीक्षा में पास होने के बाद सना (Sana Gulwani) की नियुक्ति निश्चित हो गई है।

 

मिली जानकारी के अनुसार पाकिस्तान में इस परीक्षा को बेहद कठिन माना जाता है।  क्योंकि केवल 2% से भी कम उम्मीदवारों को इस परीक्षा में सफलता मिली है।   सेंट्रल सुपेरियर सर्विसेज की परीक्षा  पाकिस्तान में सिविल सेवा (Civil Services) में जाने का माध्यम है।  इस परीक्षा की तुलना भारत के यूपीएससी (UPSC) की परीक्षा से की जाती है।  सना ने सिंध प्रांत के रूरल सीट से परीक्षा में शामिल हुई थी।  पाकिस्तान प्रशासकीय सर्विसेज (Pakistan Administrative Services) के तहत यह सीट भरी जाती है।  सना ने बताया कि यह मेरा पहला प्रयास था और मैंने जो सपने देखे थे वह हकीकत में बदल गया है।  सना के परिवार की इच्छा थी कि वह मेडिकल सेक्टर में अपना करियर बनाये।  इसलिए वे चाहते थे कि वह प्रशासकीय सेवा में नहीं जाए।
सना ने माता-पिता की इच्छा और खुद के सपने पुरे किये है।  अभिभावको की इच्छा के अनुसार सना ने मेडिकल की शिक्षा पूरी करने के बाद सीएसएस की परीक्षा (CSS Exam) से प्रशासकीय सेवा में अपनी जगह निश्चित कर ली है।  सना ने पांच साल पहले शहीद मोहतरमा बेनजीर भुट्टो मेडिकल यूनिवर्सिटी (Shaheed Mohtarma Benazir Bhutto Medical University) से बैचलर ऑफ़ मेडिसिन (Bachelor of Medicine) में डिग्री हासिल की थी।  इसके बाद वह सर्जन बन गई।  यूरोलॉजी में मास्टर डिग्री करने के बाद प्रशासनिक सेवा की तैयारी शुरू की और अपने पहले ही प्रयास में सफल हो गई।

 

 

Maharashtra | केंद्र के जोर लगाने के बाद भी ठाकरे सरकार नहीं गिर रही इसलिए विरोधी दल का असली चेहरा सामने आया

Kangana Ranaut | कोर्ट से विश्वास उठ गया ; जावेद अख्तर ने मांगा हफ्ता – कंगना रनौत

You might also like

Comments are closed.