Sameer Wankhede | समीर वानखेडे की जांच राज्य सरकार की ‘इस’ समिति द्वारा की जाएगी

मुंबई : एनसीबी के विभागीय संचालक समीर वानखेडे (Sameer Wankhede) की महाराष्ट्र सरकार सामाजिक न्याय व विशेष सहायक विभाग के अंतर्गत जाति प्रमाणपत्र जांच समिति के पास फर्जी जाति प्रमाणपत्र होने की शिकायत एक शिकायतकर्ता द्वारा की गई है। इस बारे में आज शिकायतकर्ता को समिति ने कागजात लेकर कार्यालय में बुलाया था। इसके अनुसार शिकायतकर्ता अशोक कांबले (Ashok Kamble) के वकील कागजात लेकर कार्यालय आए थे। कांबले ने कागजात प्रस्तुत किया, इसके अनुसार प्रथम दर्शनी समिति ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए शिकायतकर्ता व समीर वानखेडे (Sameer Wankhede) को आगे की जांच के लिए बुलाया है।

 

शिकायतकर्ता सामाजिक कार्यकर्ता अशोक कांबले (Ashok Kamble) ने शिकायत की है कि एनसीबी अधिकारी समीर वानखेडे (Sameer Wankhede) का कास्ट सर्टिफिकेट फर्जी है। साथ ही उसकी जांच कर उन पर कार्रवाई करने की मांग की है। इसके अनुसार आज अशोक कांबले के वकील ने कागजात समिति के सामने प्रस्तुत की है। शिकायतकर्ता अशोक कांबले के वकील नितिन सातपुते (Adv Nitin Satpute) जाति प्रमाणपत्र जांच कार्यालय में आज उपस्थित  थे।

 

नितीन सातपुते ने कहा कि उन्होने सभी कागजात समिति को दे दिया है। साथ ही प्रथम दर्शनी समिति ने कागजात को देखकर जांच करने पर सहमति जताई है। वकील सातपुते ने कहा कि इसके अनुसार 14 दिसंबर को समीर वानखेडे को कार्यालय में बुलाकर कागजात प्रस्तुत करने का आदेश देंगे, ऐसा समिति ने कहा है।

 

 

Ajit Pawar | अजित पवार ने की महिलाओं की सराहना! महिला पायलट की  ‘उस’ कहानी का किया जिक्र…

 

Sitaram Kunte | सेवानिवृत्ति के बाद सीताराम कुंटे की ‘इस’ महत्वपूर्ण पद पर नियुक्ति

You might also like

Comments are closed.