1600 करोड़ की लागत से साकारी जाएगी सफारी पार्क परियोजना 

सेंटोसा पार्क की धरती पर पूरी होगी योजना; एफडीआई का लिया जाएगा आधार

पिंपरी। संवाददाता : मोशी में नियोजित सफारी पार्क की जगह पर पुणे का कचरा डिपो बनाने की योजना को नाकाम बनाने के बाद भोसरी के विधायक महेश लांडगे की अगुवाई में मंगलवार को मुंबई में सफारी पार्क परियोजना के विषय में बैठक संपन्न हुई। इसमें राज्य के पर्यटन मंत्री जयकुमार रावल ने इस महत्वाकांक्षी परियोजना को ग्रीन सिग्नल दिया है। इससे 1600 करोड़ रुपए की इस परियोजना के साकारने को गति मिली है। इसमें 1000 करोड़ रुपए एफडीआई (फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट) के जरिए लाए जाएंगे जबकि 600 करोड़ रुपए खर्च का वहन राज्य सरकार व मनपा द्वारा किया जाएगा। सिंगापुर में विश्वविख्यात सेंटोसा पार्क की धर्ती पर यह सफारी पार्क साकारा जाएगा, यह जानकारी विधायक लांडगे ने दी।
पिंपरी चिंचवड मनपा के मंजूर डीपी (डेवलपमेंट प्लान) में मोशी के गट नंबर 646 स्थित सरकारी चारागाह का 33.72 हेक्टर क्षेत्र सफारी पार्क के तौर पर आरक्षित किया है। कुछ दिन पहले यह क्षेत्र पुणे मनपा ने अपने शहर के कचरे के निपटारे के लिए मांगी थी, यहां पुणे मनपा का कचरा डिपो बनाने की मांग की गई। विधायक लांडगे में इसका पुरजोर विरोध किया और यहां कचरा डिपो बनाने की साजिश को विफल बना दिया। यह जमीन सफारी पार्क के लिए पिंपरी चिंचवड़ मनपा को हस्तांतरित करने हेतु जिलाधिकारी नवलकिशोर राम ने मान्यता दी है। इस मसले पर विधायक लांडगे ने गत सप्ताह पर्यटन मंत्री जयप्रकाश रावल से मुलाकात की। उन्होंने आज ( 3 सितंबर) मुंबई में बैठक बुलाई थी।
इस बैठक में पर्यटन विभाग की सचिव विनीता वेद सिंघल ने बताया कि, राजस्व विभाग से सफारी पार्क की जमीन हस्तांतरित करने के बाद पर्यटन विभाग इस परियोजना का डीपीआर तैयार कर राज्य सरकार की मंजूरी लेगा। यही नहीं उन्होंने इस परियोजना का प्रस्तुतिकरण भी दिया। पर्यटन मंत्री ने इस परियोजना को ग्रीन सिग्नल दिया है। इस बैठक में पिंपरी चिंचवड़ मनपा आयुक्त श्रावण हार्डिकर के साथ ही नगरविकास और पर्यटन विभाग के अन्य आला अधिकारी मौजूद थे। इसकी जानकारी देते हुए विधायक महेश लांडगे ने कहा कि, भोसरी विधानसभा क्षेत्र में एजुकेशन हब, इंडस्ट्रियल हब और सन्तपीठ के जरिये सांप्रदायिक मंच विकसित हो रहा है। अंतरराष्ट्रीय औद्योगिक प्रदर्शन केंद्र, सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज भी यहीं शुरू होने जा रहा है। अब यहां विश्वविख्यात सेंटोसा पार्क की धरती पर सफारी पार्क विकसित करने पर पर्यटन क्षेत्र में पिंपरी चिंचवड़ शहर का नाम विश्व के नक्शे पर पहुंच जाएगा।

You might also like

Comments are closed.