एनसीएल में पीएचडी कर रहे युवक की निर्मम हत्या

पुणे। पुणे सामाचर ऑनलाइन – पुणे के पाषाण में नेशनल केमिकल लेबोरेट्री (एनसीएल) में पीएचडी कर रहे एक युवा साइंटिस्ट की गला रेतकर हत्या कर दिए जाने का मामला सामने आया है। साइंटिस्ट की गला रेतकर और पत्थरों से कूचकर बड़ी बेरहमी से हत्या की गई। गत सुबह मॉर्निंग वॉक के लिए निकले लोगों को सुस गांव की पहाड़ी इलाके में उसकी लाश नजर आयी।

पुणे पुलिस के मुताबिक, मरनेवाले युवक का नाम जालना निवासी 30 वर्षीय सुदर्शन उर्फ बाल्या बाबूराव पंडित है। सुसगांव की पहाड़ी पर मॉर्निंग वॉक करने गए नागरिकों ने लाश देखकर पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस ने यहां पहुंचकर लाश को अपने कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस के अनुसार सुदर्शन डेढ़ साल पहले पुणे में नेशनल केमिकल लेबोरेट्री में रसायन शास्त्र में पीएचडी करने के लिए आए थे। वह सुतारवाड़ी इलाके में अकेले ही रह रहे थे।

शनिवार की सुबह पुणे पुलिस को मॉर्निंग वॉक पर गए नागरिकों ने सूचना दी कि सुस गांव के पहाड़ी इलाके में एक शव पड़ा है। पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची तो वहां लाश पड़ी मिली। शव के पास पड़े आईकार्ड से शख्स की पहचान हुई। लाश के शरीर पर कपड़े नहीं थे, गला रेतकर हत्या करने के बाद चेहरा पत्थर से कुचल दिया गया ताकि मृतक की पहचान न हो। हालांकि पैंट की जेब में रखे आई-कार्ड से भाई से संपर्क कर घटना की जानकारी दी गई। हत्या के पीछे के मकसद और हत्यारों के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

You might also like

Comments are closed.