अपहरण कर हत्या करने के शक पर सेवानिवृत्त सुबेदार गिरफ्तार

पुणे : सेना में सुबेदार के पद से सेवानिवृत्त हुए व्यक्ति द्वारा पैसे के लेन देन मामले में 33 वर्षीय चालक की हत्या करने के उद्देश्य से अपहरण करने की चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। पुलिस को संदेह है कि उसने कार चालक की हत्या कर दी है। इसीलिए पुलिस ने सुबेदार को गिरफ्तार कर लिया है। अपहरण हुए चालक का मृत शरीर नहीं मिलने के कारण पुलिस जांच को रफ्तार नहीं मिलने की बात कही जा रही है। अपहरण की घटना डेढ महीने पहले हुई थी लेकिन अभी भी उसका पता नहीं चल पाया है।

शिवशंकर नर्सिंग पाटोले (उम्र 33) का अपहरण हुआ है। इस मामले में महादेव वाबले (उम्र 60) को बिबवेवाडी को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में बिबवेवाडी पुलिस थाने में आईपीसी धारा 364 के अनुसार मामला दर्ज किया गया है। इस प्रकरण में संजीवनी पाटोले (उम्र 24) ने मामला दर्ज कराया है।

मिली जानकारी के अनुसार शिकायतकर्ता और उसका पति बिबवेवाडी के रहने वाले हैं। जनवरी महीने में पीडिता के पति गायब हुए। अभी तक वे नहीं मिले हैं। उसके बाद उसने बिबवेवाडी पुलिसथाने में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने पहले मिसिंग रिपोर्ट दर्ज की। उसके बाद भी वे नहीं मिले फिर हत्या करने के उद्देश्य से अपहरण करने की शिकायत दर्ज कराई। इसके अनुसार 19 जनवरी को मामला दर्ज किया गया। इस शिकायत के अनुसार जांच की शुरुआत की।

पुलिस ने इलाके के सीसीटीवी को खंगालना शुरू किया। उसी में एक जगह पर शिवशंकर और महादेव गाड़ी में जाते हुए दिखा। उसके बाद उससे पूछताछ की तो उसने कहा कि मेरी मुलाकात ही नहीं हुई। इसलिए पुलिस ने संदेह में उसे गिरफ्तार किया। उसने कहा कि मुझे गांव जाना था, मैं गाडी लेकर जा रहा था। वो भी गांव जाने के लिए निकला। उसका गांव मेरे गांव के रास्ते में ही था। लेकिन इंदापुर में मैंने शिवशंकर के पास पिस्तौल होने के कारण उसे रोड पर ही छोड़ दिया और आगे निकल गया।

पुलिस ने दो बार पुलिस कस्टडी ली लेकिन पुलिस को कुछ भी हाथ नहीं लगा। इससे पुलिस भी हैरान है। शिवशंकर का मृत शरीर भी कही नहीं मिला। अब पुलिस ने शहर में पड़े लावारिस डेड बॉडी की जांच शुरू की है। इसमे जिस रास्ते से वाबले और शिवशंकर गया था वहाँ से दो लावारिस डेड बॉडी मिले हैं। उनका डीएनए टेस्ट किया जाएगा।

You might also like

Comments are closed.