Restrictions relaxed in Maharashtra | 11 जिलों को छोड़कर सभी जिलों में पाबंदियों में ढील

पाबंदियों में ढील

मुंबई (Mumbai News) – जब तक राज्य के 11 जिलों में मरीजों की संख्या पर काबू नहीं पा लिया जाता, तब तक उन जिलों में पाबंदियां (Restrictions relaxed in Maharashtra) बनी रहेंगी। इस बीच जन स्वास्थ्य विभाग (Health Department) ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ( Chief Minister Uddhav Thackeray) से बाकी 25 जिलों मेंcदेने की सिफारिश की है। स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने कहा कि इन 25 जिलों में सभी दुकानों और प्रतिष्ठानों (Restrictions relaxed in Maharashtra) को रात 8 बजे तक खुला रखने की भी सिफारिश की गई है। टोपे ने कहा- मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के हस्ताक्षर के बाद इन फैसलों को लागू किया जाएगा। टोपे ने यह भी स्पष्ट किया कि महाराष्ट्र अनलॉक (Maharashtra Unlock) को सोमवार देर रात तक राहत मिलेगी।

टोपे ने एक इंटरव्यू में कहा कि जापान में अब तक चार लहरें आ चुकी हैं और जा चुकी हैं। उन पर अब पाँचवीं लहर का खतरा मंडरा रहा है। एक ही दिन में वहां 10 हजार मरीज सामने आ चुके हैं। आगे उन्होंने कहा कि ओलंपिक के कारण दस हजार और मरीज हैं। जहां भीड़ होती है वहां मरीजों के बढ़ने की आशंका रहती है। ओलिंपिक के चलते जापान में मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी ने मुंबई में लोकल (Mumbai Local) शुरू करना मुश्किल बना दिया है। इस वजह से लोकल (Local Train) शुरू करने का निर्णय सोच समझ कर लेना होगा।

उन्होंने कहा – महाराष्ट्र को वैक्सीन की अधिकतम खुराक मिले इसके लिए हमने केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री डॉ. भारती पवार (Dr. Bharti Pawar) से बात की। मैंने विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) से अनुरोध किया है कि वे हमारे साथ दिल्ली आएं। हालांकि, महाराष्ट्र को ज्यादा से ज्यादा डोज मिलने दें। टोपे ने कहा- अगर महाराष्ट्र को तीन महीने में छह करोड़ खुराक मिलती है, तो हम दस करोड़ लोगों का टीकाकरण (Vaccination) पूरा कर लेंगे। 12 करोड़ के महाराष्ट्र में हमने 4.5 करोड़ लोगों का टीकाकरण पूरा कर लिया है।

अगस्त के अंत तक देखभाल की जरूरत – (Maharashtra Unlock)

अब हम एक ऐसे चरण में हैं जहां अगर हमने ध्यान नहीं दिया तो मरीजों की संख्या बढ़ सकती है। अगस्त के अंतिम सप्ताह तक सावधानी बरतनी होगी। इसलिए मुख्यमंत्री लगातार विभिन्न डॉक्टरों के साथ ही टास्क फोर्स (task Force) के सदस्यों से बात कर रहे हैं। आज मुख्यमंत्री ने रेल प्रशासन (Railway Administration) के साथ बैठक की। उन्होंने यह भी चर्चा की कि सार्वजनिक सेवा कैसे शुरू की जाए।

सिफारिशें क्या हैं ?

सभी निजी प्रतिष्ठानों को 50% उपस्थिति की अनुमति दी जानी चाहिए। शादियों, अंतिम संस्कार, नाटकों और फिल्मों के लिए उपस्थिति पर प्रतिबंध में अब ढील दी जाएगी। नाटक फिल्मों के लिए 50% उपस्थिति की अनुमति। नई सामान्य जीवन शैली को अब कोरोना के साथ जीना होगा। जो लोग मास्क का उपयोग नहीं करते हैं, उनके लिए सख्त सजा की सिफारिश की जाती है। मास्क, सैनिटाइजर अनिवार्य होगा।

इन जिलों में प्रतिबंधों (Maharashtra Unlock) में ढील दी जाएगी –
मुंबई, मुंबई उपनगर, ठाणे, नासिक, धुले, नंदुरबार, जलगांव, औरंगाबाद, जालना, लातूर, नांदेड़, परभणी, उस्मानाबाद, हिंगोली, नागपुर, वर्धा, भंडारा, गोंदिया, चंद्रपुर, गढ़चिरौली, अकोला, अमरावती, बुलडाना, यवतमाल, वाशिम।

यहां पाबंदियां इसलिए हैं क्योंकि –

पश्चिमी महाराष्ट्र में, कोल्हापुर, सांगली, सतारा, पुणे, सोलापुर, साथ ही कोंकण में सिंधुदुर्ग, रत्नागिरी, रायगढ़, पालघर और अहमदनगर में 11 जिलों में, बीड इतनी जल्दी कम नहीं होगी। स्वास्थ्य मंत्री ने एक सवाल के जवाब में यह भी स्पष्ट किया कि क्षेत्र में मरीजों की संख्या कम होने के बाद ही प्रतिबंधों में ढील दी जाएगी।

जिन लोगों को टीकाकरण की दो खुराक दी गई है, उनके लिए मुंबई में लोकल ट्रेन सेवा (Local Train Service) शुरू करने की सिफारिश की गई है। हालांकि, अंतिम फैसला मुख्यमंत्री ठाकरे (Uddhav Thackeray) टास्क फोर्स (Task Force) के सदस्यों के साथ मिलकर करेंगे।

 

 

Indian Player Tested Corona Positive | क्रुणाल के बाद अब और दो भारतीय क्रिकेटर कोरोना पॉजिटिव

Pune Corporation | 23 गांवों की विकास योजना पर शहर के जनप्रतिनिधि सुझाव दें : उपमुख्यमंत्री अजित पवार

 

You might also like

Comments are closed.