दोहा में अमेरिका-तालबिान शांति समझौते पर हस्ताक्षर के लिए प्रतिनिधि मौजूद

दोहा/काबुल, 29 फरवरी (आईएएनएस)| कतर के दोहा में ऐतिहासिक अमेरिका-तालिबान शांति समझौते पर शनिवार को हस्ताक्षर का गवाह बनने के लिए लगभग 30 देशों और अंतर्राष्ट्रीय संगठनों के विदेश मंत्री और प्रतिनिधि पहुंचे हुए हैं। दोनों पक्षों के बीच 18 महीनों की वार्ता के बाद यह समझौता हो रहा है।

जहां अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो दोहा में हस्ताक्षर प्रक्रिया में शामिल होंगे, वहीं अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर और नाटो महासचिव जेन्स स्टोलटेनबर्ग शनिवार को काबुल में होंगे। राष्ट्रपति के प्रवक्ता सेदिक सिद्दीकी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दोनों प्रमुख अधिकारी राष्ट्रपति अशरफ गनी के साथ एक संयुक्त घोषणा करेंगे।

शुक्रवार को दोहा पहुंचने पर, पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने टोलो न्यूज को बताया, “कल (शनिवार) अफगानिस्तान और अफगानों के लिए एक बड़ा दिन है। यह एक महान अवसर है।”

वहीं, उज्बेकिस्तान के विदेश मंत्री अब्दुलअजीज कामिलोव ने कहा कि वह अफगान शांति प्रक्रिया के बारे में आशावादी बने हुए हैं, और युद्धग्रस्त देश में समस्याओं के समाधान के लिए साथ मिलकर काम करने की आवश्यकता है, क्योंकि ऐसा करना क्षेत्रीय महत्व के कारण भी जरूरी है।

You might also like

Comments are closed.