Rajesh Tope | महाराष्ट्र में ऑक्सीजन की कमी से कितनी मौतें? स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने दी सटीक जानकारी

मुंबई : पुणे समाचार ऑनलाइन (Punesamachar Online) –  कोरोना की दूसरी लहर (second wave of corona) ने कोहराम मचा दिया था। इस दौरान लाखों लोगों की मौत हो गयी थी। दूसरी लहर के दौरान देश को ऑक्सीजन की सख्त जरूरत थी। दावा भी किया गया था कि उस समय कई लोगों की मौत ऑक्सीजन (oxygen) की कमी के कारण हुई थी। इस बीच कोरोना वायरस की इस दूसरी लहर में महाराष्ट्र (Maharashtra) में ऑक्सीजन की कमी से मरने वालों की संख्या के बारे में पूछे जाने पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Health Minister Rajesh Tope) ने अहम जानकारी दी है। राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान राज्य में ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत नहीं हुई।

कोरोना (corona) की दूसरी लहर के दौरान अप्रैल में नासिक के एक अस्पताल में ऑक्सीजन टैंक लीक होने से 22 लोगों की मौत हो गई थी। उस वक्त राजेश टोपे ने कहा था कि लापरवाही का पता लगाने के लिए घटना की जांच कराई जाएगी। इस बीच, केंद्र ने मंगलवार को राज्यसभा को बताया कि देश के विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत नहीं हुई है।

विपक्षी दलों ने कहा है कि वे उपचुनाव में नहीं लड़ेंगे। उस समय एक समाचार चैनल पर केंद्र के बयान के बारे में पूछे जाने पर टोपे ने कहा- हमने कभी नहीं कहा कि राज्य में ऑक्सीजन की कमी के कारण लोगों की मौत हुई है। कई मरीज अन्य बीमारियों से ग्रसित थे। ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत नहीं हुई।

इससे पहले शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने अपर्याप्त ऑक्सीजन आपूर्ति के कारण हुई मौतों को लेकर केंद्र पर निशाना साधा था। उन्होंने यह भी सलाह दी कि ऑक्सीजन की अपर्याप्त आपूर्ति के कारण मरने वाले रोगियों के रिश्तेदारों को केंद्र सरकार के खिलाफ अदालत में जाना चाहिए। इस दौरान भाजपा ने भी जोरदार जवाब दिया। इसने कहा कि विपक्षी दलों द्वारा शासित राज्य सरकारों ने अदालत को बताया था कि ऑक्सीजन की अपर्याप्त आपूर्ति के कारण दूसरी लहर में किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। भाजपा ने स्पष्ट किया था कि केंद्र सरकार द्वारा दिया गया उत्तर उसी उत्तर पर आधारित था।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि केंद्र ने संसद में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के आधार पर जवाब दिया है। किसी भी राज्य में ऑक्सीजन की कमी से मौत की सूचना नहीं है। पात्रा ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई उच्च न्यायालय को बताया था कि ऑक्सीजन की कमी से किसी मरीज की मौत नहीं हुई है। ऐसा ही दावा छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री ने भी किया था।

Web Title : Rajesh Tope | coronavirus no deaths have been reported maharashtra due lack oxygen information given health

Pune Crime | पुणे की 43 वर्षीय महिला की फेसबुक पर हुई उससे पहचान, आगे जो हुआ…

Mumbai Rain | मूसलाधार बारिश से प्लेटफार्म तक पानी; मध्य रेलवे यातायात ठप

Kolhapur News | कोल्हापुर के अनिकेत का हैदराबाद एफसी से अनुबंध; महाराष्ट्र का पहला फुटबॉलर

You might also like

Comments are closed.