Pune | ऐन त्यौहार के मौसम में शहर में पानी की किल्लत 

पिंपरी (Pimpri News) : शहर (Pune) के सभी क्षेत्रों में पानी सप्लाई (Water Supply) ठप हो गई है।  कुछ जगहों पर कम दबाव से पानी की सप्लाई हो रही है।  जबकि कुछ जगहों पर पिछले दो दिन से पानी (Pune) नहीं आया है।  इसकी वजह से नागरिकों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  लेकिन प्रशासन (Administration) का रवैया बेहद ढीला-ढाला है।

बार-बार शिकायत करने के बाद भी प्रशासन को समस्या के समाधान के लिए मुहूर्त का इंतजार है क्या ? यह सवाल स्थाई समिति की बैठक में नगरसेवकों ने उठाया है।
पिंपरी-चिंचवड़ मनपा (Pimpri-Chinchwad Municipal Corporation) की स्थाई समिति की बैठक हाल ही में सम्पन्न हुई है।  इस बैठक की अध्यक्षता ऐड. नितिन लांडगे (Adv. Nitin Landge) ने की।  इस दौरान शहर व प्रभाग की सुख-सुविधाओं की बदहाल स्थिति पर सदस्यों ने मनपा आयुक्त व प्रशासन को आड़े हाथों लिया।  शहर में पिछले छह दिनों से पानी सप्लाई खंडित रह रही है।
इसे लेकर इससे पहले ही प्रशासन से शिकायत की गई थी।  लेकिन प्रशासन ने इस पर गंभीरता से ध्यान नहीं दिया।  इसकी वजह से ऐन त्यौहार के मौसम में नागरिकों का बुरा हाल हो  रहा है।  सदस्यों ने आरोप लगाया कि इसके लिए वाटर सप्लाई विभाग (Water Supply Department) के निष्क्रिय अधिकारी जिम्मेदार है।

 

सोसायटी की टंकियां खाली

मौजदा समय में संत तुकाराम नगर, भोसरी, पिंपरी, पिंपले-गुरव, पिंपले सौदागर में  पानी की भारी किल्लत है।  कम दबाव से पानी की सप्लाई (Water Supply) हो रही है।  इसकी वजह से नागरिकों को पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिल पा रहा है।  इसकी वजह से सोसायटी की टंकियां खाली पड़ी है.

पिछले दो दिनों से पानी नहीं आने की वजह से उपलब्ध पानी सोसायटी के नागरिकों के लिए पर्याप्त नहीं है।  इसके कारण नागरिकों  को पानी की भारी किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। सदस्यों ने सवाल पूछा है  कि इस पर वाटर सप्लाई विभाग और खुद आयुक्त क्या करेंगे ?

नवंबर से 24 घंटे पानी सप्लाई का दावा  केवल बातें

मौजूदा समय में शहर में पानी की भारी किल्लत है।  शहर के नागरिकों को दी दिनों से पानी नहीं मिली है।  इसकी वजह से नागरिक हैरान और परेशान है।  जबकि दूसरी तरह मनपा आयुक्त राजेश पाटिल (Municipal Commissioner Rajesh Patil) ने नवंबर से हर दफन पानी सप्लाई की बात कह रहे है।  जबकि कुछ प्रभागों में 24 घंटे वाटर सप्लाई की शुरुआत भी हो गई है।

लेकिन नवंबर से हर दिन पानी सप्लाई करना संभव नहीं है।  यह बात वाटर सप्लाई विभाग (water supply department) ने स्पष्ट कर दी है।  स्थाई समिति की बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक्सक्यूटिव इंजीनियर प्रवीण लड़कत ने यह खुलासा किया है।  जल्द ही सारे क्षेत्र में वाटर सप्लाई नियमित रूप से करना उतना आसान नहीं है।

 

 

Pune Crime | पुणे के तलेगांव ढमढेरे में ढाई लाख की रिश्वत लेते शिक्षण संस्था के अध्यक्ष सहित तीन गिरफ्तार

You might also like

Comments are closed.