Pune | पिंपरी चिंचवड़ के 62 अस्पतालों का फायर ऑडिट नहीं

उपमहापौर हीराबाई घुले ने प्रशासन को दी सख्त हिदायत

पिंपरी : Pune | पिंपरी-चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) शहर और उसके आसपास कुल 473 अस्पताल(Hospital) हैं। इनमें से 266 अस्पतालों ने निजी एजेंसियों के माध्यम से फायर ऑडिट (fire audit) किया। जबकि मनपा फायर ब्रिगेड द्वारा 53 अस्पतालों का फायर ऑडिट किया गया है। दमकल विभाग (fire department) ने मनपा के अस्पतालों और औषधालयों समेत शहर के कुल 319 अस्पतालों का ऑडिट किया है  हालांकि, शहर (Pune) के 62 अस्पतालों ने फायर ऑडिट के लिए प्रतिसाद नहीं दिया है। इसे गंभीर बात बताकर उपमहापौर हीराबाई घुले (Deputy Mayor Hirabai Ghule) ने फायर ऑडिट को नजरअंदाज करनेवाले अस्पतालों को सख्त हिदायत देने की सूचना मनपा प्रशासन (Municipal Administration) को दी है।

 

इस बारे उपमहापौर ने मनपा आयुक्त राजेश पाटील (Municipal Commissioner Rajesh Patil) को पत्र लिखा है। इसमें कहा गया है कि, पिछले कुछ दिनों में राज्य के सरकारी अस्पतालों (government hospital) में आग लगने की घटनाएं हो चुकी हैं। इससे कई मरीजों की जान चली गई है। कहीं-कहीं आईसीयू (ICU) के कमरों में आग लग गई है। परिणामस्वरूप, राज्य सरकार (State Government) और जिला प्रशासन (District Administration) द्वारा सुझाए गए अनुसार सभी अस्पतालों को फायर ऑडिट से गुजरना चाहिए। अस्पतालों को मरीजों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए फायर ऑडिट कराना चाहिए।

 

 

पिंपरी चिंचवड़ के 62 अस्पतालों का फायर ऑडिट नहीं किया गया, यह बहुत गंभीर बात है। भविष्य में कोई दुर्घटना नहीं होनी चाहिए क्योंकि इसका ऑडिट नहीं किया गया है। प्रशासन को यह सुनिश्चित करने के लिए तत्काल उपाय करना चाहिए कि रोगी सेवा बरकरार रहे और रोगियों को किसी भी कठिनाई का सामना न करना पड़े। घुले ने निर्देश दिया है कि 62 अस्पतालों को तत्काल फायर ऑडिट कराने के आदेश दिए जाएं।

 

 

 

Pune Crime | मावल के 40 ग्रामवासियों को भोजन से विषबाधा

 

Pune News | किसान बिल रद्द किए जाने पर पिंपरी में जल्लोष

 

Pune News | किश्त बकाया रहने पर भी जबरन ऑटो उठा ले जाया नहीं जा सकता

 

Pune News | पिंपरी चिंचवड़ मनपा आयुक्त पर फिर भड़का सभागृह

You might also like

Comments are closed.