Pune News | “नए मेट्रो की तलाश की, चंद्रकांत दादा आप साढ़े तीन घंटे में कोल्हापुर जा पाएंगे” 

पुणे, 24 सितम्बर : Pune News | सिंहगढ़ रोड के फ्लाईओवर का भूमिपूजन (Bhoomipujan of the flyover of Sinhagad Road) केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) के हाथों हो रहा है।  इस मौके पर नितिन गडकरी ने पुणे के प्रोजेक्ट्स (Projects in Pune) को लेकर जानकारी दी।  साथ ही कहा कि पुणे (Pune News) में जल्द  इंटरनेशनल एयरपोर्ट (international airport)  का रास्ता साफ होगा।  उन्होंने कहा कि हमें दो चीजों को लेकर संतोष है, एक पुणे मेट्रो (Pune Metro) और दूसरा एयरपोर्ट (Airport) ।

मैंने एक नई मेट्रो की तलाश की है।  उसकी कीमत एक करोड़ रुपए प्रति किलोमीटर है।  यह 8 डिब्बों की ट्रेन है।  बिज़नेस क्लास है।  एयर होस्टेस भी होगी।  इस मेट्रो की स्पीड प्रति घंटे 140 किलोमीटर होगी।  अब चंद्रकांत दादा (Chandrakant patil) आप साढ़े तीन घंटे में कोल्हापुर जा पाएंगे।  यहां के बेरोजगार लोगों को नौकरी दी जाएगी।  मेट्रो के इस कार्य के लिए कोई पैसा न लेकर मैं कंसलटेंट  बनने को तैयार हूं।  इसमें इंटरनेट,वाईफाई, टेलीविजन मुफ्त मिलेगी ।  इसकी कीमत AC के टिकट की तरह होगी।  इसकी स्पीड प्रति घटना 140 किलोमीटर होगी।  चंद्रकांत दादा आप इस ट्रेन से तीन से साढ़े तीन घंटे में कोल्हापुर पहुंच जाएंगे।
मुझे आज दो चीजों को लेकर ख़ुशी हुई है जिसे लेकर पहले दुःख हो रहा था।  पुणे के मेट्रो का काम शुरू नहीं हुआ लेकिन नागपुर से आगे निकल गया है।  उस समय मुझ पर, फडणवीस पर निशाना साधा गया था. इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए पुणे आया था।  पेंच छुड़ाने के लिए चर्चा करनी थी और उस वक़्त पवार साहेब भी साथ थे।  पुणे में मेट्रो अंडरग्राउंड हो या ऊपर से यह सवाल सभी के सामने था. हमने कहा कि अंडरग्राउंड करने पर खर्च बढ़ेगा।  इससे टिकट का किराया अधिक होगा।  इसका रास्ता निकाला गया और काम तेज़ी से शुरू हुआ।  आज इस काम पर संतोष हो रहा है।
दूसरा विषय एयरपोर्ट का था।  जब अनिल शिरोले सांसद थे उन्होंने गिरिजा जी से इसके लिए बात की थी।  शुरुआत में एयरफोर्स के चीफ जमीन देने को तैयार नहीं थे।  उस वक़्त अधिकारी अच्छे थे उन्होंने कहा कि अपने अधिकार की जगह होनी चाहिए। उसके लिए वह तैयार हो गए और आज उसका काम हुआ।  एयरपोर्ट पर उतरने पर मुझे पास के एयरपोर्ट के एक्सटेंशन को देखकर काफी अच्छा लगा।
उन्होंने कहा कि अब एक काम है इंटरनेशनल एयरपोर्ट का।  13 एकड़ जमीन अभी भी डिफेंस से नहीं मिली  है।  अब एयरफोर्स को चंडीगढ़ में जगह देना चाहिए।  उन्हें चंडीगढ़ में जगह दी जाए और वे पुणे में जमीन दे. अब प्रधानमंत्री दवारा तैयार की गई इंफ्रास्ट्रक्चर कमेटी है।  उसका अध्यक्ष मैं हूं।  सारे मामले मेरे पास आते है।  अब स्थिति ऐसी है कि एजेंडा में विषय डालने पर काम हो जाएगा।  अब 13 एकड़ जमीन का मुद्दा मैं एजेंडे में डालूंगा और उसे मंजूर कराऊंगा।  पुणे के इंटरनेशनल एयरपोर्ट और उसकी क्षमता बढ़ेगी।  पुणे के लोगों को सुविधा होगी।
नदी विकास प्रोजेक्ट,  मुला मुठा नदी का 1400 करोड़ रुपए फंसा हुआ है।  इस मौके पर महापौर मुरलीधर मोहोल ने कहा कि जायका का टेंडर जारी किया गया है और इस प्रोजेक्ट को दिशा मिलेगी।

 

Maharashtra | लवासा मामले पर हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा ; फायदे के लिए कानून में सुधार करने का आरोप 

You might also like

Comments are closed.