Pune News| पुणे के आसपास वन डे पिकनिक स्पॉट पर मौज-मस्ती करने निकले 1000 से ज्यादा लोगों से पुलिस ने वसूला जुर्माना

पुणे: ऑनलाइन टीम- पुणे के पास एक दिवसीय पिकनिक स्थलों पर घूमने गए लोगों पर पुलिस ने जुर्माना लगाया है। एक दिन का पिकनिक स्पॉट जैसे मुलशी,  लोनावाला, खड़कवासला, सिंहगढ़ किला आदि लोगों के बीच बहुत प्रसिद्ध हैं। खासकर मानसून के दौरान लोग यहाँ पर घूमने जाना पसंद करते हैं।

हाल ही में पुलिस ने हाई COVID पॉजिटिविटी रेट के कारण पुणे जिले और आसपास के इलाके  में विभिन्न पर्यटन गतिविधियों पर प्रतिबंध लगा दिया है। पुणे के पास के पिकनिक स्थलों पर घूमने आए उत्साहित लोग पुलिस को देखकर हैरान रह गए। सिंहगढ़ किला, खडकवासला और पनशेत की ओर जाने वाली सड़कों के विभिन्न जगहों पर नाकेबंदी की गई थी।

पुणे ग्रामीण पुलिस ने शनिवार और रविवार को पर्यटन स्थल पर मौज-मस्ती करने के लिए आए लोगों से लाखो का जुर्माना वसूला।

कार्ला गुफाएं, भजे गुफाएं, लोहगढ़ किला और पवना बांध, टाइगर प्वाइंट, लायंस प्वाइंट जैसे अन्य स्थान की वजह से लोनावाला, खंडाला भी वीकेंड के लिए बहुत प्रसिद्ध है। इधर लोनावला पुलिस ने मास्क न पहनने सहित विभिन्न नियमों का उल्लंघन करने पर लोगों से जुर्माना वसूला। इस कार्रवाई में लाख रुपये से अधिक का जुर्माना वसूला गया है।

मानसून के प्रसिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक मुलशी की ओर जाने वाले उत्साही लोगों को भी पुलिस का सामना करना पड़ा। भुगांव, घोटावडे फाटा, भुगांव और मुलशी के विभिन्न हिस्सों के पास चेकपॉइंट बनाए गए। पुलिस ने वाहनों की जांच की और केवल अति आवश्यक कारणों से जानेवाले लोगों को अनुमति दी। अन्य पर्यटकों को तैनात पुलिसकर्मियों ने वापस भेज दिया।

मौज-मस्ती करने वालों को पुलिस के साथ उलझते हुए भी देखा गया था, लेकिन नियमों के सख्त कार्यान्वयन के साथ पुलिस ने उनसे 30,000 रुपये से अधिक का जुर्माना वसूल किया।

हाल ही में, उपमुख्यमंत्री और पुणे जिले के पालक मंत्री अजित पवार ने मानसून पर्यटन के लिए बाहर जाने वाले लोगों को चेतावनी दी है। पुणे के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद उन्होंने लोगों को कोविड -19 को हल्के में नहीं लेने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा था, यह ट्रेकिंग का मौसम है और कई लोग इसके लिए बाहर निकल रहे हैं। कई ऐसे हैं जो धार्मिक स्थलों पर जा रहे हैं। हम किसी धर्म के खिलाफ नहीं हैं लेकिन मौजूदा हालात को देखते हुए हमें सावधान रहने की जरूरत है। अगर लोग मानदंडों का पालन नहीं करते हैं तो हमें सख्त कदम उठाने होंगे।

You might also like

Comments are closed.