Pune News | पिंपरी चिंचवड़ में हर चार दिन में हत्या की एक वारदात

2021 में हत्या की 83 वारदातें दर्ज; गंभीर वारदातों की संख्या बढ़ी

पिंपरी, संवाददाता। Pune News | बढ़ते नागरीकरण के मद्देनजर आपराधिक वारदातों पर लगाम कसने और कानून व्यवस्था (Law and order) बनाये रखने के लिए पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) के लिए अलग पुलिस आयुक्तालय (Police Commissionerate) की स्थापना की गई। हालांकि आपराधिक वारदातें कहीं कम होते नजर नहीं आ रही। शहर में हत्या, हत्या का प्रयास, बलात्कार जैसे गंभीर आपराधिक घटनाओं (Pune News) में इजाफा हुआ है। पिछले साल यानि 2021 में हुई हत्या  (Murder) की वारदातों के आंकड़ों पर गौर करें तो शहर में हर चार दिन में एक हत्या हो रही है। 2020 में यह प्रमाण साढ़े पांच दिन था। दिसंबर 2021 तक कुल 83 हत्या की वारदातें दर्ज हुई हैं।
मामूली झगड़े और परिणामी आक्रोश हत्या के सबसे आम कारण हैं। एक-दूसरे को खुन्नस से देखने के कारण व्यक्तिगत झगड़े, हत्याएं हुई हैं। इसके अलावा वित्तीय लेन-देन, नशा, पूर्वाग्रह के साथ-साथ यौन कारणों से हत्याएं हुई हैं। जनवरी से नवंबर 2021 के बीच 76 लोगों की हत्या की घटनाएँ (Murder Cases) हुई थी। जबकि अकेले दिसंबर में सात हत्याएं हुई। वर्ष के दौरान किए गए 83 अपराधों में से 77 मामलों को पुलिस (Police) ने सुलझा लिया है। दिसंबर में, शहर ने गैंगवार का अनुभव किया। सांगवी थाना क्षेत्र (Sangvi police station area) में दिन भर अपराधियों ने एक अपराधी की गोली मार कर हत्या कर दी गई। इसके बाद आरोपी पुलिस को चुनौती देते हुए निकल गए। पुलिस आयुक्त को आरोपी को पकड़ने के लिए जाना पड़ा। इस मामले में आरोपित को पकडऩे के दौरान आरोपी और पुलिस के बीच मुठभेड़ भी हुई। आखिरकार पुलिस ने आरोपियोंको पकड़ लिया।
सांगवी के बाद चाकन पुलिस थाने (Chakan Police Station) की सीमा में एक पहलवान की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस मामले के आरोपियों को भी पुलिस ने धरदबोचा है। जैसे-जैसे गोलीबारी और हत्याओं की संख्या बढ़ रही है, यह सवाल भी सामने आया है कि ये हथियार कहां से आते हैं। यहां तक ​​कि छोटी से छोटी वजह भी हत्या जैसे गंभीर अपराध को अंजाम देने के लिए काफी है।  हत्याएं कार साइड में लेने, कार से टकराने, खुन्नस से देखने, कथित बहन को छूने जैसे मामूली वजहों से भी हत्या हुई हैं। सबसे गंभीर मुद्दा हत्या सहित कई अन्य अपराधों में नाबालिगों की संलिप्तता है। किशोर उम्र के बच्चे अपराध की ओर रुख कर रहे हैं। यह वह कैंसर है जिसने शहर के विकास को त्रस्त कर दिया है। इस बारे में सोचने और ठोस समाधान निकालने (Pune News) की जरूरत है।

 वर्ष के दौरान हुई हत्याएं – (Pune News)

 जनवरी – 2
 फरवरी – 8
 मार्च – 4
 अप्रैल – 7
 मई – 5
 जून – 4
 जुलाई – 5
 अगस्त – 12
 सितंबर – 14
 अक्टूबर – 6
 नवंबर – 8
 दिसंबर – 7

 

 

Pune News | पुलिस बताकर लोगों के जेवरात चुरानेवाली ईरानी गैंग पर शिकंजा

Sidhika Sharma | अभिनेत्री सिद्धिका शर्मा के यह ३ यहां ब्लैक बोल आउटफिट जो करेंगे आपके दिलों पर काला जादू उनकी कातिलाना अदाओं से

You might also like

Comments are closed.