Pune News | अण्णासाहेब मगर स्टेडियम में जंबो कोविड हॉस्पिटल फिर होगा शुरू 

संक्रमितों की संख्या बढ़ने से नगर निगम प्रशासन का फैसला

पिंपरी, संवाददाता। Pune News | नए वेरियंट ओमिक्रोन (Omicron variant) के साथ ही पिछले कुछ दिनों से पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) शहर में कोरोना मरीजों (Corona Patient) की संख्या में जबरदस्त इजाफा हो रहा है। गत तीन दिन से रोजाना ढाई हजार से ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। अगर इसी तरह से मरीजों के आंकड़े बढ़ते गए तो विदारक स्थिति बनते देर न लगेगी। इस पृष्ठभूमि पर पिंपरी नेहरूनगर के अन्नासाहेब मगर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स (Annasaheb Magar Sports Complex) स्थित जंबो कोविड अस्पताल (Jumbo Covid Hospital) को 100 बेड के साथ फिर से खोलने की तैयारी शुरू कर दी गई है। दो महीने की अवधि के लिए इस अस्पताल  (Pune News) पर एक करोड़ 18 लाख रुपये खर्च होंगे।

 

जुलाई 2020 में कोरोना प्रकोप के पहले दौर के बाद, पुणे महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (पीएमआरडीए) द्वारा नेहरुनगर में अन्नासाहेब मगर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में एक जंबो कोविड अस्पताल (Jumbo Covid Hospital) स्थापित किया गया था। जंबो कोविड अस्पताल को कोरोना मामलों की संख्या में कमी के कारण 16 जनवरी, 2021 को बंद कर दिया गया था। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर (Corona Second Wave) के कारण मरीजों की संख्या फिर से बढ़ने के बाद पिछले साल फरवरी में जंबो अस्पताल को फिर से खोल दिया गया था। 15 सितंबर 2021 को कोरोना मरीजों की संख्या घटने के बाद जंबो अस्पताल को फिर से बंद कर दिया गया था। अब पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri Chinchwad) शहर में एक बार फिर कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर (Corona Third Wave) देखने को मिल रही है। आये दिन संक्रमितों के आंकड़े बढ़ रहे हैं। इसी पृष्ठभूमि में नगर आयुक्त राजेश पाटिल ने 4 जनवरी को बैठक की। इस बैठक में जंबो कोविड अस्पताल को 15 जनवरी से फिर से खोलने का फैसला किया गया है।
14 जनवरी को शहर में संक्रमितों का आंकड़ा ढाई हजार पार कर गया है। इसके चलते मगर स्टेडियम (Magar Stadium) का जंबो कोविड हॉस्पिटल (Jumbo Covid Hospital) फिर शुरु करने का फैसला किया गया है। इस जंबो कोविड अस्पताल में 800 बेड की क्षमता है। इसमें से फिलहाल 100 बेड का हॉस्पिटल शुरू किया जा रहा है। इसमें ऑक्सीजन के साथ 80 बेड और आईसीयू के साथ 20 बेड होंगे। इसके लिए पीएमआरडीए (PMRDA) द्वारा पूर्व में जारी टेंडर में सबसे कम बोली लगाने वाले मेडब्रोज हेल्थकेयर डायग्नोस्टिक सेंटर से मैनपावर मंगवाया जाएगा। 15 जनवरी से 14 मार्च 2022 तक दो महीने की अवधि में 4 करोड़ 97 लाख ऑक्सीजन बेड पर और 5 करोड़ 17 लाख आईसीयू बेड पर और 10 करोड़ 14 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। इसके लिए मेडब्रोज हेल्थकेयर को चरणों में ऑर्डर किया जाएगा। इसके तहत दो माह के लिए 100 बेड का हॉस्पिटल शुरू करने के लिए एक करोड़ 18 लाख 60 हजार रुपए खर्च (Pune News) होंगे।

घरकुल के 2 भवनों में कोरोना केयर सेंटर

कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी ने तीसरी लहर की संभावना पैदा कर दी है। इसी पृष्ठभूमि में नगर आयुक्त राजेश पाटिल (Municipal Commissioner Rajesh Patil) की चार जनवरी को हुई बैठक में चिखली घरकुल स्थित कोरोना केयर सेंटर (Corona Care Center) दो माह की अवधि के लिए दोबारा शुरू किया गया। इस हिसाब से फिलहाल 125 मरीज घरकुल स्थित बी-12 भवन स्थित कोरोना केयर सेंटर में भर्ती हैं। अत: भवन क्रमांक 10 में भी केन्द्र प्रारंभ करना आवश्यक है। आइकॉन अस्पताल (Icon Hospital) को जनवरी से फरवरी 2022 तक एक महीने की अवधि के लिए कोरोना केयर सेंटर चलाने की अनुमति देने के लिए कार्यादेश जारी (Pune News) किए गए हैं। इसकी लागत 24 लाख 42 हजार रुपये होगी।

 

 

Mumbai | IIT बॉम्बे के PG छात्र ने हॉस्टल की छत से कूदकर की आत्महत्या, सुसाइड नोट बरामद

Central Railway | मध्य रेल के विस्टाडोम कोच को जबरदस्त रिस्पॉन्स, अक्टूबर से दिसंबर के बीच 2.38 करोड़ रुपये की आय

You might also like

Comments are closed.