Pune News| पुणे की स्थिति की समीक्षा करने के बाद पालक मंत्री अजित पवार की बड़ी घोषणा

पुणे : ऑनलाइन टीम- उपमुख्यमंत्री और पुणे जिले के पालक मंत्री अजित पवार ने पुणे  की स्थिति की समीक्षा के बाद एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उपमुख्यमंत्री ने ऐलान किया है कि पुणे में शनिवार और रविवार के दिन दुकानें बंद रहेंगी। इसलिए, पर्यटकों की भीड़ को रोकने के लिए पुणे जिले में वीकेंड लॉकडाउन का फैसला किया गया है। अजित पवार ने इस मौके पर और सख्त पाबंदियां लगाने की चेतावनी भी पुणेकरों को दी है। उन्होंने यह भी कहा कि बिना किसी कारण जिले से बाहर जाने वाले पुणेकरों को 15 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया जाएगा|

अजित पवार ने आज पुणे में अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से चर्चा कर कोरोना के हालात का जायजा लिया। इसके बाद उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। शनिवार और रविवार को जिला में सब कुछ बंद रहेगा और केवल आवश्यक सेवाओं की अनुमति होगी। पालक मंत्री ने कहा कि यह नियम ग्रामीण क्षेत्रों में भी लागू होगा। उन्होंने कहा कि अगर स्थिति नियंत्रण में रही तो नियमों में बदलाव किया जाएगा। उन्होंने पर्यटन स्थलों पर भीड़ न लगाने की भी अपील की।

पुणेकरों को लगा होगा कि शनिवार और रविवार को क्यों बंद रहेगा। क्योंकि राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या कम हो रही है, लेकिन रायगढ़, रत्नागिरी, बीड, उस्मानाबाद, पुणे, कोल्हापुर जैसे कुछ जिलों में अभी भी कोरोना मरीजों की संख्या अधिक है।

तीसरी लहर छोटे बच्चों के लिए खतरनाक बताई जा रही है। माता-पिता डरे नहीं। उन्होंने कहा, ‘हम इससे पूरी तैयारी के साथ निपटना चाहते हैं। अजित पवार ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शिक्षा के लिए विदेश गए छात्रों से भी अपील की कि जिन छात्रों ने कोवैक्सीन ली है वो कोविशिल्ड न लें। विदेश में अभी कोवैक्सीन को अनुमति नहीं मिली है इसलिए छात्र परेशान हैं।

मानसून की शुरुआत के बाद से, शनिवार और रविवार को कई लोग लोनावाला और महाबलेश्वर जैसे पर्यटन स्थलों की ओर रुख कर रहे हैं। लोगों को नहीं पता कि वे ऐसा क्यों कर रहे हैं। अजित पवार ने कहा कि लोगों को इस मामले को गंभीरता से लेने की जरूरत है।

You might also like

Comments are closed.