Pune News | यशवंत शुगर फैक्ट्री की समस्या को जल्द से जल्द सुलझाने की मांग

पुणे : Pune News | हवेली तालुका के यशवंत सहकारी शुगर फैक्ट्री  (Yashwant Sahakari Sugar Factory) पर पिछले 10 वर्षों से ताला लगा हुआ है। तत्कालीन राष्ट्रवादी काँग्रेस पुरस्कृत संचालक मंडल (Nationalist Congress Awarded Board of Directors) के गलत प्रबंधन और भ्रष्टाचार की वजह से कारखाना बंद हो गया था। इस कारखाने में लगभग 21000 सभासद हैं। इस कारखाना (Pune News) के कार्यक्षेत्र में हवेली, दौंड, खेड, शिरूर तालुके के कुल मिलाकर 149 गांवों का समावेश है। इसलिए इसे शुरू करने की पहल महाराष्ट्र सरकार करे, ऐसा पत्र पर्यटन व पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) को शिवसेना हवेली तालुका प्रमुख प्रशांत दत्तात्रय कालभोर (Prashant Dattatraya Kalbhor) ने सौंपा है।

कालभोर ने आदित्य ठाकरे से मिलकर इस मांग का पत्र सौंपा है। इस पत्र में उन्होंने उल्लेख किया है कि इस कारखाने की प्रतिदिन की पेरणी क्षमता 3500 मेट्रिक टन है। सभासद की दृष्टि से इसे शुरू करना अत्यंत आवश्यक है। इस कारखाने के पास 248 एकड़ जमीन है और इसका बाजार भाव दो करोड़ रुपये है। राज्य सहकारी बैंक कारखाने पर गलत तरीके से ज्यादा कर्ज दिखा रही है। इसलिए इस संदर्भ में शिवसेना के पदाधिकारी व शुगर आयुक्त साथ ही राज्य सहकारी बैंक के प्रशासक एकसाथ बैठक कर यशवंत  शुगर  फैक्ट्री को शुरू करने की पहल करें।

इसके साथ ही उन्होंने वाघोली, भवडी, लोणीकंद परिसर के पत्थर खुदाई को बंद करने को लेकर उचित कार्यवाही करने का भी अनुरोध किया है। हाल ही में वाघोली को पुणे महानगरपालिका की सीमा में शामिल किया गया है। इस इलाके में रोज नए कंस्ट्रक्शन शुरू होते हैं। इसलिए इस इलाके की जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है। खनन की वजह से बड़े पैमाने पर धूल और बड़ी गाड़ियों की आवाजाही होती है इसलिए लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए यहाँ रहनेवाले लोगों की स्वास्थ्य क ख्याल करते हुए कोई उचित कदम उठाएं, ऐसा कालभोर ने कहा है।

 

Pune Crime | हत्या के दो वारदात से सहमा पुणे, दत्तवाडी में युवक और हडपसर में रिक्शा चालक का मर्डर

 

You might also like

Comments are closed.