Pune News | लेटरबम’ के बाद सकते में आयी भाजपा, घरभेदियों को चेताया

भाजपा अनुशासनप्रिय पार्टी, संगठन विरोधी कार्रवाई नहीं होगी बर्दाश्त: अमोल थोरात

पिंपरी : Pune News | राष्ट्रवादी कांग्रेस (Nationalist Congress) के अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार (Corruption) के आरोपों से बेजार भाजपा तब सकते में आ गई जब पार्टी के नगरसेवक तुषार कामठे (Corporator Tushar Kamthe) ने एक ‘लेटर बम’ (Letter Bomb) के जरिये भाजपा विधायकों की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा है कि, पार्टी के पिंपरी चिंचवड़ (Pune News) शहराध्यक्ष व विधायक महेश लांडगे (Mahesh Landge) और विधायक लक्ष्मण जगताप (Laxman Jagtap) की तानाशाही, भ्रष्ट और गलत कामों से आगामी मनपा चुनाव में पार्टी को नुकसान होने की संभावना जताई है। इस ‘लेटर बम'(Letter Bomb) के बाद तिलमिलाए भाजपा के प्रवक्ता अमोल थोरात (Amol Thorat) ने पार्टी के घरभेदियों को चेतावनी (Pune News) दी है। उन्होंने कहा कि, भाजपा एक अनुशासनप्रिय पार्टी  है, इसमें संगठन विरोधी कार्रवाई बिल्कुल बर्दाश्त नहीं होगी। जरूरत पड़ने पर ऐसे लोगों को पार्टी से निष्कासित किया जायेगा।

बर्दाश्त नहीं किया जाएगा (Pune News)

इस बारे में जारी किए एक बयान में पार्टी प्रवक्ता अमोल थोरात ((Amol Thorat)) ने कहा कि, पिछले कुछ दिनों में पिंपरी-चिंचवड़ मनपा (Pimpri-Chinchwad Municipal Corporation) में सत्तारूढ़ भाजपा के कुछ नगरसेवकों ने पार्टी के खिलाफ बयानबाजी शुरू कर दी है। दरअसल, पार्टी ने सभी को समान न्याय देने की कोशिश की है। हालांकि कुछ अहम पदों के लिए अड़ियल भूमिका अपनाने वाले पार्टी की छवि खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। थोरात ने कहा कि, राज्य में पार्टी के नेताओं को भाजपा के खिलाफ बेबुनियाद बयान देने वालों की परवाह नहीं होगी। भाजपा एक अहम पार्टी है। कुछ भी हो, भाजपा फिर एकतरफा सत्ता में आएगी। एक पार्टी के तौर पर सभी से एक साथ एकजुट होकर काम करने की उम्मीद की जाती है। मगर, अगर कोई पार्टी और उसके नेताओं को चुनौती देने की कोशिश कर रहा है तो उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि, भाजपा में महत्वपूर्ण पद न मिलने से बेचैन कुछ लोग पार्टी के प्रति वफादार होने का दावा कर रहे हैं। पार्टी में अनुशासन महत्वपूर्ण है।  पार्टी और संगठन को बढ़ाने के लिए सभी को पहल करनी चाहिए। पार्टी का आंतरिक मुद्दा उठाकर स्टंट (stunt) करने की कोशिश करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वफादार के रूप में पब्लिसिटी स्टंट (publicity stunt) करने वालों को अपनी वफादारी की जांच करनी चाहिए।  उन्होंने यह भी दावा किया कि, वफादार लोग कभी भी भाजपा को बदनाम नहीं करेंगे।

 

बहरहाल ऐन मनपा (Municipal Corporation) चुनाव के मुहाने सत्तादल भाजपा में शुरू हुए घमासान से सियासी गलियारों में खलबली मच गई है। दो दिन पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस के अध्यक्ष शरद पवार ((Sharad Pawar)) ने दो दिवसीय पिंपरी चिंचवड़ (Pimpri-Chinchwad) दौरे में सत्तादल भाजपा और उसके दोनों विधायकों पर जमकर हमला बोला। उन्होंने विधायकों पर शहर को आपस में बांट लेने व भ्रष्टाचार (Corruption) के गंभीर आरोप लगाए। इसके तुरंत बाद पिछले कुछ दिनों से भाजपा से नाराज चल रहे नगरसेवक तुषार कामठे (Corporator Tushar Kamthe) ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष व विधायक चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) व नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) से विधायक महेश लांडगे (Mahesh Landge Laxman Jagtap) और लक्ष्मण जगताप (Laxman Jagtap) के बारे में लिखित शिकायत की है। पत्र में, कामठे ने कहा, भाजपा के विधायकों के पिछले पांच वर्षों में गलत कामों के कारण आने वाले चुनावों में पार्टी को झटका लगने की संभावना है। उनके द्वारा किए गए भ्रष्टाचार के लिए विपक्ष और जनता मनपा चुनाव में जवाब मांगेंगी और अपने नगरसेवकों को जमकर खरी-खोटी सुनाएगी। लांडगे व जगताप ने मनपा में मनमानी व तानाशाही से दखल देकर कई नगरसेवकों को प्रताड़ित किया है। उन्होंने यह भी कहा है कि, अपनी चमड़ी बचाने के लिए ये विधायक पार्टी छोड़ सकते हैं। क्योंकि दोनों विधायक समय-समय पर पार्टी बदलते रहे हैं।

 

You might also like

Comments are closed.