देश की सबसे हल्की मेट्रो होगी पुणे मेट्रो

कानपुर में बन रही है मेट्रो के बोगी फ्रेम
पुणे। तेज रफ्तार से चल रहे पुणे मेट्रो के निर्माण कार्य ने और रफ्तार पकड़ ली है। कानपुर में पुणे मेट्रो के बोगी फ्रेम कानपुर में बन रहे हैं। पनकी इंडस्ट्रियल एरिया स्थित वेद सैसोमैकेनिका को 34 मेट्रो के लिए 204 बोगी फ्रेम सप्लाई का ठेका मिला है। कंपनी को इसी माह परीक्षण के लिए सात बोगी फ्रेम इटली भेजने हैं। पुणे की मेट्रो देश की सबसे हल्की मेट्रो होगी। यह एल्युमिनियम की होगी। मेट्रो को हल्का बनाने के लिए इसके बोगी फ्रेम का भार भी कम किया गया है।
मेट्रो ट्रेन के चलते वक्त होने वाला कंपन उसकी बोगी फ्रेम पर ही निर्भर करता है। तेजस में कंपनी इसमें अपनी काबलियत साबित कर चुकी है। इसके चलते ही कंपनी को पुणे की मेट्रो का भी ऑर्डर मिला है। हालांकि इस बार के परीक्षण और भी कड़े हैं। पुणे की मेट्रो का कार्य देख रही टीटागढ़ फिरेमा भारतीय कंपनी है, जिसने इटली की कंपनी का अधिग्रहण किया है। कंपनी बोगी फ्रेम का परीक्षण अपने इटली के प्लांट में करेगी। इसके लिए इसी माह तीन बोगी के हिसाब से 6 बोगी फ्रेम और एक अलग से बोगी फ्रेम भेजा जाना है। बोगी फ्रेम बनाने के लिए यूरोपियन स्टैंडर्ड ईएन 15085 कंपनी को हासिल हो चुका है।
इसी माह बोगी फ्रेम इटली रवाना कर दिए जाएंगे। वहां परीक्षण के बाद पुणे के लिए बोगी फ्रेम रवाना होंगे। एक अतिरिक्त बोगी फ्रेम को माइनस 40 डिग्री सेल्सियस तापमान पर दबाव डालकर तोड़ा जाएगा और परीक्षण किया जाएगा कि वह कितना दबाव बर्दाश्त कर सकता है। भारत में यह मानक माइनस 20 डिग्री सेल्सियस है। पुणे की मेट्रो देश की सबसे हल्की मेट्रो होगी जो एल्युमिनियम की होगी। मेट्रो को हल्का बनाने के लिए इसके बोगी फ्रेम का भार भी कम किया गया है। कंपनी के निर्देशों के मुताबिक इसका भार रखा जा रहा है। इसके लिए इटली से ही लोहे की प्लेट आ रही हैं। समाचार एजेंसी के मुताबिक आने वाले समय में पुणे मेट्रो बनाने वाली कंपनी ये प्लेट भारत में ही बनाने लगेगी तो ये प्लेट वहीं से कानपुर आएंगी।
You might also like

Comments are closed.