Pune Crime | पुणे के दिघी में कॉन्ट्रैक्टर को धमकाकर हफ्ता मांगने वाले बाप-बेटे गिरफ्तार 

दिघी पुलिस स्टेशन

पुणे (Pune News), 13 सितंबर : कंस्ट्रक्शन साइट पर आरएमसी डालने के लिए कॉन्ट्रैक्टर को धमका (Pune Crime) कर 45 हज़ार रुपए का एक्सटॉरशन (Extortion) लेने का मामला दिघी पुलिस स्टेशन (Dighi Police Station) क्षेत्र से सामने आई है। कंस्ट्रक्शन साइट पर कॉन्क्रीट का काम करने वाले कॉन्ट्रैक्टर से 30 हज़ार रुपए का हफ्ता लेकर फ़ोन कर एक लाख रुपए का हफ्ता मांगा (Pune Crime) गया। इस मामले में दिघी पुलिस (Dighi Police) ने तीन लोगों को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। यह घटना पिछले पांच महीने से 10 सितंबर तक चनहोली बुद्रुक में आवनी आवास कंस्ट्रक्शन साइट (Construction Site) पर घटी है।

 

इस मामले में सत्यवान ज्ञानेश्वर तापकीर (Satyavan Dnyaneshwar Tapkeer) (उम्र 46), आकाश सत्यवान तापकीर (Akash Satyawan Tapkeer) (उम्र 25) और सागर सत्यवान तापकीर (Sagar Satyawan Tapkeer) (उम्र 23, सभी नि – कालजेवाड़ी, चनहोली, पुणे) को गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में मनोज नरेश गुप्ता (Manoj Naresh Gupta) (उम्र 44, नि – निगडी प्राधिकरण, पुणे) ने दिघी पुलिस स्टेशन (Dighi Police Station) में शिकायत दर्ज कराई है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गुप्ता की कालजेवाड़ी में आवनी आवास नाम से कंस्ट्रक्शन साइट का काम चल रहा है। यहां पर आरएमसी कॉन्ट्रैक्टर चव्हाण आरएमसी मटेरियल सप्लाई करते है। गुप्ता की साइट पर मटेरियल डालने के लिए आरोपियों ने चव्हाण को धमका कर 50 हज़ार का हफ्ता मांगकर 45 हज़ार रुपए लिए.
साथ ही कंस्ट्रक्शन साइट पर हरीश पटेल (Harish Patel) कांक्रीट का काम करवा रहे है। आरोपी आकाश ने उन्हें धमका कर 30 हज़ार रुपए का हफ्ता लिया। 10 सितंबर को आरोपी सत्यवान ने पटेल को फ़ोन कर एक लाख रुपए का हफ्ता मांगा था. पैसे नहीं देने पर गाडी में तोड़फोड़ कर साइट पर नहीं आने देने की धमकी दी थी। इस मामले में तीनों आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। दिघी पुलिस (Dighi Police) मामले की जांच कर रही है।

 

 

You might also like

Comments are closed.